Top

Lucknow News: सतीश महाना ने कहा- उद्योगों में कार्यरत कार्मिकों एवं उनके परिवारीजनों का वैक्सीनेशन अति आवश्यक

Lucknow News: राज्य सरकार की रणनीति प्रदेश के हर व्यक्ति को कोरोना से बचने के लिए टीकाकरण की है।

Shreedhar Agnihotri

Shreedhar AgnihotriWritten By Shreedhar Agnihotri

Published on 22 July 2021 6:19 PM GMT

Lucknow News: सतीश महाना ने कहा- उद्योगों में कार्यरत कार्मिकों एवं उनके परिवारीजनों का वैक्सीनेशन अति आवश्यक
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Lucknow News: राज्य सरकार की रणनीति प्रदेश के हर व्यक्ति को कोरोना से बचने के लिए टीकाकरण की है। इसलिए वह हर संभव प्रयास कर रही है। इसी के तहत आज औद्योगिक समूहों कार्मिको के टीकाकरण के लिए आज एक वर्चुअल बैठक का आयोजन किया गया। इस मौके पर उत्तर प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने कहा कि प्रदेश सरकार उद्योगों को निर्बाध गति से चलाने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है। इसके लिए उद्योगों में कार्यरत कार्मिकों एवं उनके परिवारीजनों का वैक्सीनेशन अति आवश्यक है। प्रदेश की अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने में औद्योगिक समूहों और उद्योगों में कार्यरत कार्मिंकों का बहुत बड़ा योगदान है। उद्योगों में कार्य करने वाला प्रत्येक व्यक्ति एक-दूसरे जु़ड़ा रहता है। जरूरी है कि सभी का टीकाकरण हो, जिससे कि उद्योगों के संचालन में कोई संकट पैदा न हो।

महाना आज औद्योगिक संगठनों, निजी औद्योगिक घरानों एवं औद्योगिक इकाइयों में कार्यरत कर्मियों एवं उनके परिवारीजनों का कोविड से बचाव के लिए वैक्सीनेशन कराने के संबंध में वर्चुअल बैठक कर रहे थे। उन्होंने कहा कि औद्योगिक इकाइयों एवं संगठनों के सहयोग से टीकाकरण महाअभियान को संचालित कराया जायेगा तथा उनके जो भी मुद्दे होंगे उसका भी समाधान किया जायेगा। प्रदेश सरकार प्रत्येक व्यक्ति की सुरक्षा की चिंता कर रही है। कोविड महामारी से बचाव के लिए सभी अपना टीकाकरण कराकर सुरक्षित हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि औद्योगिक समूहों को स्वयं तक करना होगा कि उन्हें कौन सी वैक्सीन लगवानी है, जिसे सरकार को भी कार्य करने में आसानी हो सके।


इस मौके पर सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि टीकाकरण के संबंध में इस बैठक में शामिल उद्योगपतियों के सुझावों पर गंभीरता से विचार किया जायेगा। उन्होंने कहा कि एमएसएमई की सभी यूनिट्स अपने यहां के कर्मचारियों का टीकारण कराने के लिए निकट्म सरकारी अस्पालों में सम्पर्क कर सकते हैं। प्रदेश की अर्थव्यवस्था मंद न पड़े इसके लिए सरकार उद्योगों को चलाने का प्रयास कर रही है। इन समूहों में टीकाकरण होने के पश्चात उद्योगों के संचालन में कोई कठिनाई नहीं होगी।
औद्योगिक विकास आयुक्त संजीव मित्तल ने कहा कि प्रदेश सरकार के प्रयासों से कोविड की दूसरी लहर में भी अर्थव्वस्था को नुकसान नहीं हुआ। उद्योग-धंधे चलते रहे और श्रमिकों को काम भी मिलता रहा है। उन्होंने कहा कि भारत सरकार ने निजी अस्पतालों में वैक्सीन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराई है। औद्योगिक समूहों को अपने कार्मिकों का शीघ्र टीकाकरण के लिए इसका लाभ ले।
अपर मुख्य सचिव, डाॅ नवनीत सहगल ने प्रदेश सरकार के टीकाकरण अभियान की प्रसंशा करते हुए कहा कि औद्योगिक संगठनों समूहों के कार्मिकों एवं उनके परिजनों का टीकाकरण करवाने के लिए सरकार अहम सहयोग प्रदान करेगी। अपर मुख्य सचिव, औद्योगिक विकास अरविंद कुमार ने कहा कि औद्योगिक समूहों में टीकाकरण के लिए लगातार उद्यमियों से सम्पर्क किया जा रहा है तथा सरकार इन्हें जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराने का प्रयास कर रही है।
अपर मुख्य सचिव, स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि शीघ्र टीकाकरण के लिए औद्योगिक संगठन निजी चिकित्सालयों के माध्यम से भी वैक्सीनेशन करा सकते हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार लोगों का फ्री वैक्सीनेशन के संकल्पबद्ध है, लेकिन प्रदेश की अर्थव्यवस्था को गति प्रदान करने के लिए उद्योगों में कार्य करने वाले कार्मिकों का शीघ्र टीकाकरण कराना जरूरी है। निजी वैक्सीनेशन संेटर से टीकाकरण कराने में तेजी से टीकाकरण हो सकेगा।


Dharmendra Singh

Dharmendra Singh

Next Story