×

UP election 2022 : सपा चंद्रशेखर से नहीं करेंगी गठबंधन, आजाद बोले- अखिलेश यादव को नहीं चाहिए दलितों का साथ

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव 2022 से पहले हर रोज कुछ न कुछ अलग होता दिख रहा है। चंद्रशेखर आजाद रावण के लखनऊ स्थित आजाद समाज पार्टी (Azad Samaj Party) के कार्यालय में चंद्रशेखर की ये प्रेस कॉन्फ्रेंस सुबह 10 बजे रखी गई थी।

Rahul Singh Rajpoot

Written By Rahul Singh RajpootPublished By aman

Published on 15 Jan 2022 5:44 AM GMT

chandra shekhar azad up election 2022
X

chandra shekhar azad up election 2022

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

UP election 2022 : भारतीय आजाद समाज पार्टी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद ने अखिलेश यादव पर बड़ा आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव उनसे गठबंधन नहीं करना चाहते हैं। पिछले 6 महीने से उनकी सपा प्रमुख से बातचीत चल रही थी लेकिन उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। उन्होंने ने कहा अखिलेश यादव दलितों का साथ नहीं चाहते उनका भी व्यवहार बीजेपी जैसा ही है।

उन्होंने कहा, की अब वह अपने लोगों से बातचीत कर आगे की रणनीति तैयार कर यूपी का चुनाव दमदारी के साथ लड़ेंगे। उन्होंने कहा बीजेपी को बाहर रखने के लिए वह अखिलेश यादव से तालमेल करना चाह रहे थे लेकिन उनका रवैया उनके प्रति ठीक नहीं रहा। चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि वह मायावती से भी गठबंधन करना चाह रहे थे लेकिन उन्होंने भी इंकार कर दिया तो वह अखिलेश यादव से बात शुरू की लेकिन उनका जवाब अब तक नहीं मिला। इसलिए अब आजाद समाज पार्टी और लोगों को मिलाकर यूपी में मजबूती के साथ मैदान में उतरेगी।


बता दें पिछले कई दिनों से आजाद सपा प्रमुख से मिलने उनके कार्यालय पर पहुंचते थे और उनकी कई दौर की बातचीत भी हो चुकी है। कल भी चंद्रशेखर आजाद स्वामी प्रसाद मौर्य के सपा में शामिल होने से पहले सपा कार्यालय पर पहुंचे थे और अखिलेश यादव से मिले थे। जब उन्हें गठबंधन को लेकर कोई जवाब नहीं मिला तो आज चंद्रशेखर आजाद ने प्रेस कांफ्रेंस कर अखिलेश यादव पर हमला बोल दिया है। बता दें आजाद भीम आर्मी से अपनी सियासत की शुरुआत की थी और अब अपनी खुद की पार्टी बनाकर यूपी का चुनाव लड़ने की तैयारी में है। उनका कहना है कि बीजेपी जैसे दल को रोकना बिना एकता के आसान नहीं है। इसलिए वह अखिलेश यादव के साथ मिलकर चुनाव लड़ना चाह रहे हैं।

कल अखिलेश से मिलने के बाद चंद्रशेखर आजाद ने ट्वीट कर कहा था कि दलित अब अखिलेश यादव की तरफ देख रहा है, अखिलेश यादव दलितों के मान सम्मान की रक्षा करेंगे। लेकिन आज का उनका बयान अब उन पर ही हमले बोलने लगा है।


अखिलेश यादव चंद्रशेखर से नहीं करेंगे गठबंधन, चंद्रशेखर आजाद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अखिलेश यादव पर लगाए आरोप, अखिलेश नहीं करना चाहते गठबंधन- चंद्रशेखर, बीजेपी जैसा ही व्यवहार कर रहे हैं अखिलेश,अखिलेश यादव दलितों का साथ नहीं चाहते, अखिलेश यादव ने गठबंधन पर नहीं दिया कोई जवाब, मेरी लड़ाई विधायक बनने की नहीं समाजिक है, अखिलेश यादव को दलितों की जरूरत नहीं है, बहन जी से भी गठबंधन की कोशिश की उन्होंने भी मना किया, अब हम अपने समाज की लड़ाई लड़ने के लिए अकेले मैदान में उतरेंगे


उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव 2022 से पहले हर रोज कुछ न कुछ अलग होता दिख रहा है। चंद्रशेखर आजाद रावण के लखनऊ स्थित आजाद समाज पार्टी (Azad Samaj Party) के कार्यालय में चंद्रशेखर की ये प्रेस कॉन्फ्रेंस सुबह 10 बजे रखी गई थी। लेकिन इससे पहले ही यहां पुलिस पुलिस ने कोरोना नियमों का हवाला देते हुए इस पर रोक लगा दी। हालांकि, बाद में बातचीत की गई तो शर्तों के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस की इजाजत मिली।

लखनऊ स्थित आजाद समाज पार्टी के कार्यालय में चंद्रशेखर आजाद यह प्रेस कॉन्फ्रेंस शनिवार सुबह 10 बजे होनी थी। लेकिन, उससे ठीक पहले ही यहां पुलिस पहुंच गई। कार्यालय प्रभारी ने बताया कि राष्ट्रीय अध्यक्ष आज प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले थे लेकिन पुलिस-प्रशासन कोविड नियमों का हवाला दे रही है। ई नोटिस पुलिस की तरफ से नहीं दिया गया है।

दफ्तर पर चिपकाया गया नोटिस


aman

aman

Next Story