×

Lakhimpur Kheri violence: लखीमपुर हिंसा पर बोले कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुप्पी पर उठाए सवाल

लखीमपुर खीरी हिंसा पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुप्पी पर उठे सवाल

Rajat Verma
Published on: 8 Oct 2021 9:58 AM GMT
Kapil Sibal
X

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल की फाइल तस्वीर (फोटो साभार-सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Lakhimpur Kheri violence: लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) और प्रदेश में घट रही ऐसी कई भयावह घटनाओं के बावजूद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (pradhanmantri narendra modi) की चुप्पी बनी हुई, घटना को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (pradhanmantri narendra modi) कोई भी बयान देने से साफ नजर आ रहे हैं। लखीमपुर हिंसा के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (pradhanmantri narendra modi) आज़ादी@75, लखनऊ अमृत महोत्सव कार्यक्रम में लिए लखनऊ तो आए लेकिन उन्होंने लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) में हुई हिंसा को लेकर न तो कोई बात की और न ही कोई बयान दिया।

इसके बाद काँग्रेस नेता कपिल सिब्बल (Kapil Sibal) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लखीमपुर कांड को लेकर चुप्पी पर ट्वीट करते हुए लिखा कि-"मोदी जी आप चुप क्यों हैं? अगर आप विपक्ष में होते तो इस घटना पर कैसी प्रतिक्रिया देते।"

इसी ट्वीट के साथ कपिल सिब्बल (Kapil Sibal) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मृतक किसानों और अन्य के प्रति संवेदना दिखाने की अपील करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री जी हमें सिर्फ आपसे पीड़ितों के परिवार के प्रति सहानुभूति के चंद शब्द सुनने हैं, आपके लिए यह ज़्यादा मुश्किल नहीं होगा।

लखीमपुर खीरी हिंसा पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुप्पी को लेकर अपने मुखपत्र "सामना" में प्रकाशित संपादकीय द्वारा निशाना साधते हुए लिखा कि-" प्रधानमंत्री मोदी आमतौर पर कई मुद्दों पर भावुक हो जाते हैं। लेकिन यह हैरानी की बात है कि लखीमपुर कांड पर उन्होंने अब तक कोई भी प्रतिक्रिया नहीं दी है।"

लखीमपुर खीरी में उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की जनसभा के दौरान हुई हिंसा में हिंसा 4 किसानों समेत कुल 8 लोगों की मौत हो गई थी।

लखीमपुर खीरी हिंसा में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र के बेटे आशीष मिश्र पर आरोप है कि उनकी और उनके साथियों की तेज रफ्तार से आती गाड़ियां किसानों को रौंदते हुए निकल गई थी, इसी घटना के मद्देनजर उत्तर प्रदेश पुलिस ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र के बेटे आशीष मिश्र के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया था। जिसके चलते गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में सीजेआई एन.वी. रमना (CJI N.V. Ramana) के बेंच की सुनवाई के बाद आशीष मिश्र की गिरफ्तारी का वारंट जारी कर दिया गया।

Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story