×

Lucknow के होटलों में कमरे फुल: 'ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी 3.0' होटल इंडस्ट्री के लिए संजीवनी

होटल ताज़ के मैनेजर मंगेश का कहना है, कि 'अरसे बाद यह कहते हुए सुकून मिल रहा है कि कमरे फुल हैं। आने वाले समय में इस सेरेमनी से होटल इंडस्ट्री में बूम की उम्मीद की जा सकती है।'

Shashwat Mishra
Written By Shashwat Mishra
Updated on: 2 Jun 2022 1:02 PM GMT
lucknow hotels rooms full before up ground breaking ceremony 3.O
X

प्रतीकात्मक फोटो 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

UP Ground Breaking Ceremony 3.0 : उत्तर प्रदेश की राजधानी में शुक्रवार को गोमती नगर के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान (Indira Gandhi Foundation) में 'ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी 3.O' (UP Ground Breaking Ceremony 3.0) का आयोजन किया जाएगा। जिससे सरकार को 80 हजार करोड़ रुपए से अधिक निवेश की उम्मीद है। इसमें 1,406 कंपनियां शामिल होंगी। वहीं, पूरे कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) स्वयं करेंगे।

मगर, इससे पहले ही 'नवाबों के शहर' के सभी बड़े होटलों के कमरे फुल हो चुके हैं। कुछ होटलों में तो सरकार द्वारा कमरों की बुकिंग कराई गई है, जबकि कुछ जगहों पर प्राइवेट व कॉरपोरेट बुकिंग्स (Private & Corporate Bookings) की वजह से होटल्स पूरी तरह भरे हुए हैं। गौरतलब है, कि इससे पूर्व में भी ऐसी ही दो 'मीट' हो चुकी है, जिसमें 'ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी 1.0' में 61,800 करोड़ से अधिक और 'ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी 2.0' में 67,000 करोड़ रुपए से ज़्यादा का निवेश हुआ था।

होटल इंडस्ट्री को मिलेगा बढ़ावा

कैसरबाग स्थित 'होटल क्लार्क्स अवध' के मैनेजर सेल्स एंड मार्केटिंग पी. एल. गुप्ता ने 'न्यूज़ट्रैक' संग बातचीत में बताया, कि होटल में कोरोना के बाद ऐसी रौनक देखने को मिल रही है। नहीं तो सिर्फ़ शादी के सीजन में ज़्यादा बुकिंग होती थी। 'ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी' होटल इंडस्ट्री के लिए किसी संजीवनी से कम नहीं है। क्योंकि, होटल इंडस्ट्री की डिमांड इस सेरेमनी की वजह से बाद तक बनी रहेगी। उन्होंने इसके पीछे तर्क देते बताया कि जैसे किसी बाहरी कंपनी ने यहां निवेश किया, तो उसके उच्चाधिकारियों का बार-बार जायजा लेने का सिलसिला जारी रहेगा।

होटल में कमरे नहीं खाली

लखनऊ के 'दैनिक जागरण चौराहे' स्थित होटल फार्च्यून के मैनेजर विस्वास ने बताया कि कमरे ख़ाली नहीं हैं। होटल में कॉरपोरेट इवेंट्स भी हो रहें। बाहर से आने वाली कंपनियां, निवेश को लेकर प्लानिंग करने में जुटी हैं। इसके अलावा होटल ताज़ के मैनेजर मंगेश का भी कहना है, कि 'लंबे अरसे बाद यह कहते हुए सुकून मिल रहा है कि कमरे फुल हैं। आने वाले समय में इस सेरेमनी से होटल इंडस्ट्री में बूम की उम्मीद की जा सकती है।'

aman

aman

Next Story