×

UP Chunav 2022: अखिलेश, ओपी राजभर आये साथ, बोले- 'अबकी बार भाजपा साफ'

UP Chunav 2022: ओमप्रकाश राजभर और समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव के बीच आज बैठक हुई।

Rahul Singh Rajpoot

Rahul Singh RajpootReport Rahul Singh RajpootVidushi MishraPublished By Vidushi Mishra

Published on 20 Oct 2021 10:29 AM GMT

Omprakash Rajbhar Samajwadi Party
X

ओमप्रकाश राजभर अखिलेश यादव 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

UP Chunav 2022 : सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के मुखिया ओमप्रकाश राजभर (Omprakash Rajbhar) और समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के बीच आज बैठक हुई। जिसमें दोनों नेताओं ने 2022 का चुनाव साथ मिलकर लड़ने का फैसला किया है। बैठक के बाद समाजवादी पार्टी और ओमप्रकाश राजभर (Akhilesh Yadav Omprakash Rajbhar Ek) ने ट्वीट कर कहा कि अबकी बार भाजपा साफ।

ओपी राजभर इससे पहले शिवपाल, ओवैसी समेत अन्य छोटी पार्टियों से मिलकर एक नया मोर्चा (Akhilesh OP Rajbhar Ek Sath) बनाने की कवायद में जुटे थे । लेकिन उन्होंने पिछले दिनों समाजवादी पार्टी से बातचीत का क्रम शुरू किया। आज अखिलेश यादव की बैठक के साथ ही अब गठबंधन पर सहमति बन गई है। इसके बाद यह दोनों दल यूपी का रण मिलकर लड़ेंगे।

समाजवादी पार्टी ने किया ट्वीट

अखिलेश और राजभर की बैठक के बाद समाजवादी पार्टी ने ट्वीट कर कहा की 'वंचितों, शोषितों, पिछड़ों, दलितों, महिलाओं, किसानों, नौजवानों, हर कमजोर वर्ग की लड़ाई समाजवादी पार्टी और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी मिलकर लड़ेंगे।

सपा और सुभासपा आए साथ,

यूपी में भाजपा साफ'!

राजभर ने भी बीजेपी साफ का दोहराया नारा

अखिलेश यादव के साथ बैठक के बाद ओपी राजभर का झूठ हावी दिखाई दे रहा है ।॥क्योंकि लंबी मशक्कत के बाद समाजवादी पार्टी से गठबंधन पर सहमत बनी है । इससे पहले उन्होंने बीजेपी से भी गठबंधन के संकेत दिए थे । लेकिन अपनी शर्तों पर बहुजन समाज पार्टी से भी उनकी बात नहीं बनी तो उन्होंने यूपी में थर्ड मोर्चा तैयार करने की बात कही थी । लेकिन अब वह समाजवादी पार्टी के साथी बन गए हैं।

ओपी राजभर ने किया ट्वीट

सुभासपा अध्यक्ष ओपी राजभर ने ट्वीट कर कहा की 'अबकी बार, भाजपा साफ़! समाजवादी पार्टी और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी मिलकर आए साथ। दलितों, पिछड़ों अल्पसंख्यकों के साथ सभी वर्गों को धोखा देने वाली भाजपा सरकार के दिन हैं बचे चार। मा. पूर्व मुख्यमंत्री एवं सपा के सुप्रीमो आदरणीय श्री अखिलेश यादव जी से शिष्टाचार मुलाकात(Akhilesh OP Rajbhar Ek Sath) की'।

2017 में बीजेपी के साथ मिलकर लड़ा था चुनाव

बता दें 2017 के विधानसभा चुनाव में ओपी राजभर बीजेपी के सहयोगी बने थे। एक दर्जन सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे। उनके चार विधायक जीतकर विधानसभा पहुंचे। ओपी राजभर को योगी कैबिनेट में मंत्री पद से नवाजा गया था । लेकिन 2019 में उन्होंने बीजेपी के साथ रिश्ता तोड़ते हुए मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। अब समाजवादी पार्टी के साथ 2022 का चुनाव(Akhilesh OP Rajbhar Ek Sath) लड़ने का फैसला कर लिया है।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story