×

UP Elections 2022: पार्टी छोड़ने वालों पर CM योगी का वार- वंशवाद की राजनीति वाले सामाजिक न्याय की दलील न दें

यूपी विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान साथ ही दल-बदल और खेमेबाजी तेज हो गई है। कल तक जो बीजेपी के अपने थे, आज पराये हो गए हैं। विधानसभा चुनाव से पहले कई विधायक बीजेपी (BJP) छोड़कर जा चुके हैं।

Network

Newstrack NetworkPublished By aman

Published on 14 Jan 2022 10:45 AM GMT

UP CM Yogi Adityanath
X

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फोटो : सोशल मीडिया )

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

UP Elections 2022 : यूपी विधानसभा चुनाव (UP Elections 2022) की तारीखों के ऐलान साथ ही दल-बदल और खेमेबाजी तेज हो गई है। कल तक जो बीजेपी के अपने थे, आज पराये हो गए हैं। विधानसभा चुनाव से पहले कई विधायक बीजेपी (BJP) छोड़कर जा चुके हैं। मंगलवार से अब तक पार्टी के कई बड़े नेताओं ने इस्तीफा दे दिया है। जो विधायक पार्टी छोड़कर गए हैं, अब वो बीजेपी पर तंज कस रहे हैं।

इस बीच पार्टी छोड़कर जाने वाले नेताओं पर आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने हमला बोला। योगी ने कहा, कि 'वंशवाद और परिवार की राजनीति करने वाले सामाजिक न्याय की लड़ाई नहीं लड़ सकते।' इसी दौरान उन्होंने समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) की सरकार के 5 साल में सिर्फ 18,000 आवास दिए जाने की बात भी उठाई।

अगर ये सामाजिक समरसता, तो मैं विरोध करता हूं

सपा पर तंज भरे लहजे में कहा, 'गरीबों की जमीनों, मकानों पर कब्जा करना अगर सामाजिक समरसता है, तो उसका मैं विरोध करता हूं।' मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, कि 'सामाजिक न्याय की लड़ाई का अर्थ है, समाज के हर तबके को सरकार की योजनाओं का लाभ मिले। उनके साथ सामाजिक-आर्थिक भेदभाव ना हो। बता दें अब तक बीजेपी से करीब 14 लोगों ने इस्तीफा दिया। अधिकतर समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए हैं। इस्तीफा देने वालों में स्वामी प्रसाद मौर्य, धर्म सिंह सैनी और दारा सिंह चौहान समेत कई विधायक हैं।

'पांच साल तक मलाई खाई'

योगी आदित्यनाथ से पहले उन्हीं के कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने भी पार्टी छोड़कर गए नेताओं पर सवाल खड़े किए। बोले, कि 'पार्टी छोड़ने वालों ने पांच साल तक मलाई खाई। लेकिन कैबिनेट की कमेटियों में कभी दलितों और पिछड़ों का मुद्दा नहीं उठाया।' सिद्धार्थनाथ सिंह ने भी समाजवादी पार्टी पर सवाल खड़े करते हुए कहा, कि ये नेता जिस पार्टी में जा रहें हैं उनकी सरकार में भी मुस्लिम और यादवों को छोड़कर किस दलित और पिछड़े का कल्याण हुआ।'

इनके टिकट कटने वाले थे

सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा, कि जो बीजेपी छोड़कर गए है इन सभी के या तो टिकट कटने वाले थे या इनकी सीटें बदलने के लिए कहा गया था। जिसकी वजह से लोग पार्टी छोड़ रहे हैं।' उन्होंने दावा, किया कि 10 मार्च को जब परिणाम आएंगे तो पार्टी 300 से अधिक सीटों पर जीत दर्ज करेगी।

aman

aman

Next Story