×

UP Election 2022 : प्रियंका ने बीजेपी-सपा को बताया एक जैसा, कहा- भाजपा को छोड़कर किसी से भी कर सकते हैं गठबंधन

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान मैदान में कूद सकती हैं। पार्टी में लंबे समय से मांग रही है कि प्रियंका गांधी को यूपी में विधानसभा चुनाव लड़ना चाहिए।

aman
Published By amanWritten By Rahul Singh Rajpoot
Updated on: 2022-01-22T10:59:34+05:30
Priyanka Gandhi
X

Priyanka Gandhi

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

UP Election 2022 : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने न्यूज़ एजेंसी एनआईए को दिए इंटरव्यू में उत्तर प्रदेश चुनाव को लेकर अपना पक्ष रखते हुए बीजेपी, सपा, बसपा पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है, कि भारतीय जनता पार्टी को छोड़कर वह किसी भी दल से गठबंधन कर सकती हैं, लेकिन भारतीय जनता पार्टी और समाजवादी पार्टी को एक जैसा बताया। यूपी में कांग्रेस की ओर से खुद (प्रियंका) को सीएम चेहरा बनाए जाने को लेकर कहा, 'क्या आप और भी प्रदेशों में जाकर प्रभारियों से ऐसे सवाल करते हैं। हमारी पार्टी की रणनीति है किसी प्रदेश में वह मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित करती है और कहीं पर नहीं करती, यह पार्टी की अपनी रणनीति है।'

प्रियंका बोलीं, कि 'उत्तर प्रदेश में वह मुख्यमंत्री चेहरे की कोई बात नहीं कही थी। प्रियंका गांधी ने कहा कि सभी मीडिया वाले एक ही सवाल पूछते हैं, जिस पर मैंने कहा था उत्तर प्रदेश में आप हर जगह मेरा चेहरा देख सकते हैं, मैं सीएम चेहरा हूं ऐसी कोई बात नहीं कही थी।'

'बीजेपी-सपा एक ही रास्ते पर'

प्रियंका गांधी ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और समाजवादी पार्टी (सपा) को एक जैसा बताया। उन्होंने कहा, कि यह दोनों पार्टियां फायदे के लिए एक ही रास्ते पर चलकर खेल रही हैं जिससे उनको फायदा हो रहा है। उन्होंने कहा ,कि 'कांग्रेस पार्टी कह रही है कि विकास और जनता के मुद्दे पर चुनाव होना, लेकिन कुछ पार्टियां जातिवादी, सांप्रदायिकता कर आगे बढ़ती हैं उनका एक ही खेल है।'

मायावती पर भी निशाना

प्रियंका गांधी ने बीएसपी सुप्रीमो को लेकर भी कहा, कि 'वह इस चुनाव में मायावती के रवैये से हैरान हैं। जिस तरह से मायावती पूरे चुनाव में चुप हैं वह चौंकाने वाला है। बता दें, इस चुनाव में मायावती अभी तक सिर्फ एक रैली को संबोधित की हैं, वह भी चुनाव घोषणा से पहले। चुनाव ऐलान के बाद तो रैली, रोड शो पर रोक लग गया। अब पूरी तरह से चुनाव की कमान बीएसपी महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा के कंधों पर है। मायावती ने अभी तक चुनाव प्रचार की शुरुआत नहीं की है। उसी को लेकर प्रियंका गांधी ने सवाल उठाए हैं।

सीएम योगी पर हमला

कांग्रेस महासचिव ने सीएम योगी के 80 और 20 प्रतिशत वाले बयान पर कहा है, कि 'वह 80 प्रतिशत बनाम 20 फीसदी कह रहे हैं। सच्चाई यह है कि यह 99 प्रतिशत बनाम 1 फीसदी है। सच तो यह है कि यूपी समेत इस देश में सरकार के बड़े कारोबारी चंद दोस्त हैं, जो फायदा उठा रहे हैं, बाकी सब बहुत दर्द में हैं।'

असल मुद्दों की बातें नहीं हो रही

प्रियंका ने कहा, 'आज यूपी में बेरोजगारों के प्रतिशत के बारे में बात क्यों नहीं कोई कर रहे। हम उस बजट के बारे में बात क्यों नहीं कर रहे हैं, जो सरकार शिक्षा पर खर्च कर रही है। हम उन सवालों को क्यों संबोधित कर रहे हैं जिनका यूपी की प्रगति से कोई लेना-देना नहीं है।' उन्होंने कहा कि 'उत्तर प्रदेश में असल मुद्दों की बातें नहीं हो रही है सिर्फ जातिवादी, संप्रदायिकता वादी बातों को बढ़ावा देकर चुनावी फायदा उठाने की कोशिश हो रही है।'

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Election 2022) के दौरान मैदान में कूद सकती हैं। पार्टी में लंबे समय से मांग रही है कि प्रियंका गांधी को यूपी में विधानसभा चुनाव लड़ना चाहिए। हालांकि, अभी इस पर अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है। शुक्रवार को खुद प्रियंका ने कहा, कि पिछले एक महीने से पार्टी के भीतर यह बात चल रही थी, कि मुझे उत्तर प्रदेश में चुनाव लड़ना चाहिए। उन्होंने कहा, कि वो चुनाव लड़ सकती हैं। कहां से, किस सीट से चुनाव लड़ना है यह अभी तय नहीं हुआ है।

प्रियंका गांधी से जब यह पूछा गया, कि क्या यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) या सपा प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के खिलाफ मैदान में उतरेंगी? तो, इस पर उनका जवाब था,'ऐसा जरूरी नहीं है।' दरअसल, प्रियंका गांधी ने ये बातें कांग्रेस मुख्यालय में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए यूथ मेनिफेस्टो (youth manifesto) भर्ती विधान जारी करने के दौरान कही।

'दिख तो रहा है न सब जगह मेरा चेहरा'

इसी कार्यक्रम में मीडिया ने जब उनसे यह सवाल पूछा, कि पंजाब में कांग्रेस कह रही है कि पार्टी कलेक्टिव लीडरशिप (Collective Leadership) में जाएगी। मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर सवाल उठते रहते हैं। तो क्या आप कांग्रेस का चेहरा होंगी? इस पर प्रियंका गांधी का जवाब था, कि 'आपको कांग्रेस की तरफ से कोई और चेहरा दिख रहा है। तो फिर। दिख तो रहा है न सब जगह मेरा चेहरा।' बता दें कि प्रियंका के इसी बयान के बाद से उनके उत्तर प्रदेश में भी चुनाव लड़ने को लेकर कयास लगाए जाने लगे थे।

बता दें कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस ने अपना घोषणापत्र जारी किया। इस दौरान प्रियंका गांधी ने कहा था, कि भर्ती विधान को बनाने के लिए हमारे कार्यकर्ताओं ने जिले-जिले में घूमकर युवाओं से चर्चा की। उन चर्चाओं से जो भी निकला है उसी को लेकर भर्ती विधान बना है। उन्होंने बताया, कि इस घोषणा पत्र का नाम 'भर्ती विधान' इसलिए बनाया गया है, क्योंकि इस समय यूपी में युवाओं के लिए भर्ती सबसे बड़ी समस्या है। उन्होंने कहा, कि उत्तर प्रदेश के युवाओं से बात करने के बाद घोषणा पत्र बनाया गया है। हम एक नया उत्तर प्रदेश बनाना चाहते हैं।

aman

aman

Next Story