×

Raebareli News: डिप्टी सीएम का कांग्रेस पर तंज: यूपी चुनाव में दो-चार सीटों पर लड़ाई में दिखेगी पार्टी

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने रायबरेली में कांग्रेस पार्टी पर तीखा हमला बोला है।

Keshav Prasad Maurya
X

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य (फोटो-न्यूजट्रैक)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Raebareli News: सूबे के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य (Keshav Prasad Maurya) ने मंगलवार को सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली में कांग्रेस को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि 2017 के विधानसभा में उनके सदस्य केवल 7 की संख्या में चुनकर के गए थे, अबकी भी दो-चार सीटों में लड़ाई में दिखेंगे तो दिखेंगे। बता दें कि उप मुख्यमंत्री का यह बयान ऐसे समय आया है जब कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश में पार्टी प्रत्याशियों के चयन को लेकर लगातार बैठकें कर रही हैं।

केशव प्रसाद मौर्य (Keshav Prasad Maurya) ने बताया कि आज उन्होंने रायबरेली में 265 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस अस्तित्व में नहीं है़। उन्होंने दावे के साथ कहा है़ कि पूरे विश्वास से कह सकते हैं कि 2024 में रायबरेली में कमल खिलेगा। उन्होंने मीडिया से कहा कि 2022 में हम रायबरेली जनपद की सभी 6 सीटें जीतने का लक्ष्य लेकर के चल रहे हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में 312 अकेले बीजेपी जीती थी, और सहयोगियों के साथ हमने 325 सीटें जीती थीं। फिर उतनी ही सीटें या उससे अधिक सीटें जीतकर उत्तर प्रदेश में सरकार बनाएंगे।


सपा-बसपा कांग्रेस तीनों एक होकर के लड़े उसके बाद भी हमने उनको अमेठी में 2019 का चुनाव हराया। प्रियंका के दौरे को लेकर उन्होंने कहा कि दौरा तो वो 2019 में भी कर रही थीं अमेठी में भी रायबरेली में भी। अगर 2019 के उनके दौरे के प्रभाव का आप आकलन करेंगे तो सपा-बसपा के समर्थन के बाद भी वह रायबरेली सीट बचा पाई हैं। ज्ञात हो कि अमेठी और रायबरेली कांग्रेस का गढ़ माना जाता रहा है, लेकिन भाजपा मोदी लहर में इस गढ़ को ढहाने में सफल रही। यह देखना दिलचस्प होगा कि भाजपा का यह प्रदर्शन आगे भी कायम रहेगा। फिलहाल कांग्रेस रायबरेली जीतने के लिए पूरी कोशिश में लग गई है।

Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story