×

Raebareli News: फूलन देवी की प्रतिमा स्थापित करने वाला चबूतरा तोड़ा गया, बयानबाजी तेज

एसडीएम ऊंचाहार (SDM Unchahar) राजेंद्र शुक्ला ने बताया कि गांव वालों को बताया गया कि शासन से अनुमति नहीं मिल पाई है। इसलिए चबूतरा को हटा लीजिए, गांव वालों ने इस चबूतरा को हटा दिया है

Phoolan Devi
X

फूलन देवी की लगने वाले चबूतरे को तोड़ा गया (फोटो-न्यूजट्रैक)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Raebareli News: उत्तर प्रदेश के रायबरेली में पूर्व सपा सांसद स्व. फूलन देवी (Phoolan Devi) की प्रतिमा स्थापित करने के मामले में नया मोड़ आ गया है़। प्रतिमा के स्थापन से ठीक 6 दिन पूर्व आज ग्रामीणों द्वारा चबूतरे को ध्वस्त कर दिया गया है़। जिसको लेकर करणी सेना ने इसे राजपूतों की विजय बताया है़। वहीं एसडीएम ऊंचाहार (SDM Unchahar) राजेंद्र शुक्ला ने बताया कि गांव वालों को बताया गया कि शासन से अनुमति नहीं मिल पाई है। इसलिए चबूतरा को हटा लीजिए, गांव वालों ने इस चबूतरा को हटा दिया है किसी ने तोड़ा नहीं है।

बता दें कि ऊंचाहार कोतवाली क्षेत्र के खंधारीपुर मजरे जब्बारीपुर गांव में सपा की पूर्व सांसद स्व. फूलन देवी (Phoolan Devi) की मूर्ति स्थापित करने की तैयारी चल रही थी। यह मूर्ति 20 सितम्बर को लगाने की योजना थी। गांव में निषाद बिरादरी की बहुलता है। फूलन देवी भी निषाद जाति की थीं और निषाद बिरादरी के लोग उन्हें अपना नेता मानते हैं। यही वजह कि अंदरखाने में गांव में फूलन देवी की प्रतिमा लगाने के लिए चबूतरा तैयार कर लिया था। आगामी 20 सितम्बर को मूर्ति लगाने की योजना थी, जिसके लिए गांव के लोग दिन-रात लगे हुए थे।


कोतवाल ने गांव के प्रधान अनिल कुमार को फोन कर मूर्ति लगाने के लिए परमीशन लेने की बात कही थी। इस बाबत प्रधान ने बताया कि गांव के लोग फूलन देवी की मूर्ति लगाने की तैयारी में हैं इससे मेरा कोई लेना देना नहीं है। उधर कोतवाल विनोद कुमार सिंह ने बताया कि गांव में फूलन देवी की मूर्ति लगाने की योजना के बारे में जानकारी हुई है। प्रधान को बिना परमीशन मूर्ति न लगाने को कहा गया है।

जबकि हिंदू युवा वाहिनी के जिला संयोजक जितेंद्र सिंह ने कहा कि समाजवादी पार्टी के विधायक ऊंचाहार मनोज पाण्डेय और उनके प्रदेश सगंठन द्वारा जो 20 सितंबर को कुख्यात दस्यु सुंदरी, डकैत फूलन देवी की मूर्ति लगवाने जा रहे हैं। ये कितना सही है? अगर आपको मूर्ति लगवानी ही है, तो एक देशभक्त के रूप में तो आप निषादराज गुहा की लगवाइए, नहीं तो देश की स्वतंत्रता संग्राम में अमर शहीद मंगल पांडेय, अशफाक उल्ला खान, चंद्रशेखर आजाद, शहीदे आजम भगत सिंह, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, अब्दुल हमीद की प्रतिमा लगवाइए। हम सब आपका स्वागत और सहयोग भी करेंगे।

Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story