×

Sultanpur: साथियों ने की दोस्त की गोली मारकर हत्या, मोबाइल तोड़ना बना मौत का कारण

Sultanpur: जिले में आज से 10 दिन पूर्व हिस्ट्रीशीटर की हत्या का पुलिस ने आज खुलासा कर दिया है। पुलिस एंव SOG टीम ने 4 बदमाशों को गिरफ्तार किया है।

Fareed Ahmed
Updated on: 20 July 2022 12:59 PM GMT
Sultanpur News In Hindi
X
पुलिस के साथ पकड़े गए हत्यारे। 
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Sultanpur: जिले में आज से 10 दिन पूर्व हिस्ट्रीशीटर की हत्या का पुलिस ने आज खुलासा कर दिया है। पुलिस एंव SOG टीम ने 4 बदमाशों को गिरफ्तार किया है। जिनके पास से असलहा व घटना में प्रयोग की गई बाइक पुलिस को मिली है। पुलिस के अनुसार पुरानी रंजिश में बदमाशों ने घटना को अंजाम दिया था। मामला कादिपुर कोतवाली क्षेत्र के शिक्षक कालोनी का है।

मृतक के साथियों ने ही दिया घटना को अंजाम

दरसअल, 10 जुलाई की रात कादीपुर कोतवाली क्षेत्र (Kadipur Kotwali Area) के शिक्षक कलोनी निराला नगर निवासी गौरव सिंह उर्फ आर्यन सिंह को गोली मार दी गई थी। घायल अवस्था में उसे ट्रामा सेंटर रेफर किया गया था जहां उसकी मौत हो गई थी। SP सोमेन वर्मा (SP Somen Verma) ने घटनास्थल का निरीक्षण कर अनावरण के लिए पुलिस टीम का गठन किया था। ASP व CO कादीपुर के नेतृत्व में थाना कादीपुर पुलिस एवं एसओजी टीम ने सूचना तंत्र विकसित करते हुए आज कोतवाली क्षेत्र के साई बाबा मंदिर मोड के पास से चार हत्यारों को गिरफ्तार किया है। जिनकी पहचान आदित्य सिंह पुत्र वीरेंद्र बहादुर सिंह निवासी गुंडा कुंवर थाना छावनी जनपद बस्ती,अभिनव सिंह पुत्र अनुपम कुमार सिंह निवासी बनकेगांव थाना कादीपुर,सौरभ पाठक पुत्र राकेश पाठक निवासी पूरे कालू पाठक का पुरवा भडरा परशुराम पुर थाना कुड़वार व यंशवत सिंह पुत्र हरि सिंह निवासी कटसारी थाना कादीपुर के रूप में हुई है।

पुलिस ने आलाकत्ल के साथ हत्यारों को किया गिरफ्तार

पुलिस को आदित्य के हत्या में प्रयुक्त 1 पिस्टल 32 बोर जो घटना में प्रयोग की गयी थी व 1 खोखा 2 जिन्दा कारतूस, अभिनव के पास से 1 तमंचा 12 बोर व 1 जिन्दा कारतूस मिला है।

मोबाइल तोड़ने के विवाद में हुई हत्या

पूछताछ में आरोपियों ने पुलिस को बताया कि 9 जुलाई को सौरभ व अभिनव पटेल चौक चौराहे पर थे जहां पर पुरानी बात को लेकर गौरव व सौरभ में विवाद हो गया था। गौरव ने सौरभ का मोबाइल पटक कर तोड़ दिया था और कहा था कि दुबारा दिखे तो गोली मार देंगे। इसी बात से नाराज होकर हत्या की योजना बनाई गईं और अगले दिन घटना को अंजाम दिया।

Deepak Kumar

Deepak Kumar

Next Story