×

UP Assembly Membership: विधानसभा की सदस्यता गंवाने वालों में अगला नम्बर अब मुख्तार अंसारी का!

UP Election 2022: पिछले साल वाराणसी के रहने वाले सुधीर सिंह ने विधानसभा अध्यक्ष को मुख्तार अंसारी की सदस्यता रद्द करने मांग की।

Shreedhar Agnihotri
Published on 10 Dec 2021 8:17 AM GMT
bsp mla Mukhtar Ansari
X

मुख्तार अंसारी (फोटो : सोशल मीडिया ) 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

UP Assembly Membership: उत्तर प्रदेश विधानसभा से चार विधायकों की सदस्यता (vidhan sabha sadasyata) जाने बाद अब अगला नम्बर बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari ) का होने की पूरी संभावना है। गाजीपुर (Ghazipur) सदर से विधायक मुख्तार की सदस्यता खत्म करने को लेकर एक याचिका विधानसभा में एक साल से लम्बित है पर अबतक विधानसभा सचिवालय की तरफ से कोई फैसला नहीं हो सका है।

उल्लेखनीय है कि हाल ही में फैजाबाद के भाजपा विधायक खब्बू तिवारी (BJP MLA Khabbu Tiwari) की फर्जीवाडे और अन्य आपराधिक मामलों में संलिप्त होने के कारण विधानसभा की सदस्यता से बर्खास्त किया जा चुका है।

वहीं पिछले साल वाराणसी के रहने वाले सुधीर सिंह ने विधानसभा अध्यक्ष को मुख्तार अंसारी की सदस्यता रद्द करने मांग की है। सुधीर सिंह की ओर से उनके वकील अशोक पांडे ने विधानसभा अध्यक्ष को एक याचिका सौंपी है जिसमें कहा गया है कि संविधान के अनुसार लगातार 60 दिन तथा एक सत्र में अनुपस्थित रहने और दायित्व का निर्वाह नहीं कर पाने वाले विधायक की सदस्यता रद्द की जा सकती है। वह 10 सालों से जेल में बंद हैं। इसलिए विधानसभा अध्यक्ष इस याचिका पर विचार करें क्योंकि मऊ की जनता को अपने क्षेत्र में जनप्रतिनिधि के बिना बेहद दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। लम्बित याचिका में कहा गया है कि मुख्तार अंसारी मऊ सीट से चुने जाने के बाद भी संवैधानिक दायित्वों का निर्वाहन नहीं कर पा रहे हैं। भारतीय संविधान के अनुसार लगातार 60 दिन तक सत्र में अनुपस्थित रहने वाले विधायक की सदस्यता रद्द की जा सकती है।

इन विधायकों को किया गया बाहर

विधायक इंद्रप्रताप उर्फ खब्बू तिवारी भाजपा के हमीरपुर के विधायक अशोक सिंह चंदेल को हत्या के पुराने मामले में सजा होने के बाद उनको विधानसभा की सदस्यता से बर्खास्त किया जा चुका है। जबकि उन्नाव के भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को बलात्कार के एक मामले में सजा होने के बाद उन्हे भी विधानसभा से बर्खास्त किया जा चुका है।

इसके अलावा समाजवादी पार्टी के रामपुर की स्वार सीट से विधायक और सांसद मोहम्मद आजम खां के बेटे अब्दुल्ला आजम की जन्म तिथि में हेरफेर करने के चलते उनका चुनाव शून्य करते हुए उनकी सदस्यता जा चुकी है।

taja khabar aaj ki uttar pradesh 2021, ताजा खबर आज की उत्तर प्रदेश 2021

Monika

Monika

Next Story