×

कुंभ के बाद संत अयोध्या में मिलेंगे और राम मंदिर का निर्माण शुरू होगा

कुंभ में राम मंदिर का मुद्दा चर्चा का विषय बना हुआ है। महामंडलेश्वर जूना अखाड़ा स्वामी यतीनंदा नन्द गिरी ने कहा कि कुंभ मेले की समाप्ति के बाद, हमने फैसला किया है कि सभी संत अयोध्या में मिलेंगे और राम मंदिर का निर्माण शुरू होगा। बीजेपी राम मंदिर के निर्माण में दिलचस्पी नहीं ले रही है, क्योंकि वे इस मुद्दे को चुनाव के लिए जीवित रखना चाहते हैं।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 30 Jan 2019 3:17 PM GMT

कुंभ के बाद संत अयोध्या में मिलेंगे और राम मंदिर का निर्माण शुरू होगा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

प्रयागराज : कुंभ में राम मंदिर का मुद्दा चर्चा का विषय बना हुआ है। महामंडलेश्वर जूना अखाड़ा स्वामी यतीनंदा नन्द गिरी ने कहा कि कुंभ मेले की समाप्ति के बाद, हमने फैसला किया है कि सभी संत अयोध्या में मिलेंगे और राम मंदिर का निर्माण शुरू होगा। बीजेपी राम मंदिर के निर्माण में दिलचस्पी नहीं ले रही है, क्योंकि वे इस मुद्दे को चुनाव के लिए जीवित रखना चाहते हैं।

ये भी देखें : आज से कुंभ मेले पर आधारित छायाचित्र प्रदर्शनी का शुभारंभ

बता दें कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर महामंडलेश्वर जूना अखाड़ा स्वामी यतीनंदा नन्द गिरी के बाद अब जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती जी ने भी मोदी सरकार के खिलाफ खुलकर अपनी नाराजगी जताई थी।। महामंडलेश्वर जूना अखाड़ा स्वामी यतीनंदा नन्द गिरी ने कहा कि मोदी सरकार के मौजूदा कार्यकाल में मंदिर निर्माण का काम शुरू होने की कोई उम्मीद नहीं बची है।

ये भी देखें : परमहंस दास को जूस पिलाकर नरेन्द्रानन्द सरस्वती ने अनशन तोड़ा ,दी सरकार को चेतावनी

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story