Top

आजम खान बोले- अगस्ता के सहारे BJP ने फिर खोला बोफोर्स का दरवाजा

By

Published on 1 May 2016 2:03 PM GMT

आजम खान बोले- अगस्ता के सहारे BJP ने फिर खोला बोफोर्स का दरवाजा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रामपुर: वीवीआईपी हेलीकॉप्टर अगस्ता वेस्टलैंड खरीद मामले में कांग्रेस पार्टी बैकफुट पर है। इस मसले पर राजनीतिक पार्टियां अपने-अपने हिसाब से प्रतिक्रिया दे रही है। इसी मुददे पर यूपी सरकार के कद्दावर मंत्री आजम खान ने अपनी ने अपनी प्रतिक्रिया दी।

इस दौरान आजम ने राज्यपाल से चल रही खींचतान पर भी बेबाकी से जवाब दिया और उन्हें मनाने तक की बात कही। आजम खान रविवार को अपने विधानसभा क्षेत्र रामपुर में थे। आजम रामपुर स्थित जौहर विश्वविद्यालय में पत्रकारों से बात-चीत करते हुए कई मुद्दों पर अपनी प्रतिक्रिया दी।

अगस्ता वेस्टलैंड मुद्दे पर क्या कहा आजम ने ?

-अपनी प्रतिक्रिया देते हुए आजम खान ने कहा, भाजपा ने एक बार फिर बोफोर्स का दरवाजा खोला है।

-ऐसे मुददे सत्ताधारी पार्टी या विपक्षी पार्टी उस वक्त उठाती है जब उनके पास कहने को कुछ नहीं होता।

-उन्होंने अपील करते हुए कहा, कि इसे बोफोर्स जैसा मुददा न बनाएं।

राज्यपाल से विवाद पर क्या बोले ?

पत्रकारों से बातचीत में आजम ने राज्यपाल से अपनी जगजाहिर छींटाकशी पर भी बेबाकी से जवाब दिया। उन्होंने कहा कि अगर राज्यपाल उनसे नाराज हैं तो वे उन्हें राजी कर लेंगे। यदि राज्यपाल उन्हें राजी करना चाहते हैं तो बिल पर दस्तख्त कर दें। आजम ने आगे कहा -

-60 साल से चले आ रहे गलत कानून को अब बदलना चाहते हैं जो समाजहित में है उस पर वह दस्तख्त कर दें।

-वह क्यों भाजपा के मेयरों को प्रोटेक्ट कर रहे हैं।

-एक मेयर को बचाने के चक्कर में प्रदेश का अहित हो रहा है।

वे राज्यपाल नहीं होते तो भी मैं उनसे नाराज नहीं होता

महामहिम हमारी बर्खास्तगी चाहते हैं फिर भी हमें अच्छे लगते हैं। मुझे जनता ने चुना है, मैं उनसे नाराज नहीं हूं। वह काफी बुजुर्ग हैं। हम बुजुर्गों से नाराज नहीं होते। अगर वह राज्यपाल नहीं भी होते तो भी मैं उनसे नाराज नहीं होता।

Next Story