Top

जौहर विवि फ्लाईओवर मामलाः आजम बोले- इंजीनियर्स फांसी के काबिल

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 1 July 2016 8:48 PM GMT

जौहर विवि फ्लाईओवर मामलाः आजम बोले- इंजीनियर्स फांसी के काबिल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रामपुरः यूपी ब्रिज कॉरपोरेशन के इंजीनियर से अभद्र व्यवहार का आरोप लगने के बाद आजम खान ने शुक्रवार को इंजीनियरों पर मानकों की अनदेखी का आरोप लगाया। आजम ने कहा कि ऐसे इंजीनियर देशद्रोही हैं। इन पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) लगना चाहिए और ये फांसी के काबिल हैं।

क्या बोले आजम?

-आजम ने कहा कि मानकों की अनदेखी कर जौहर विश्वविद्यालय से एकता तिराहे तक फ्लाईओवर बनाया गया।

-कैबिनेट मंत्री ने आरोप लगाया कि इसके स्लैब कई बार गिर चुके हैं, बिहार के दो मजदूरों की मौत हुई और कई लोग जख्मी हुए।

-उन्होंने मीडिया से कहा कि ब्रिज कॉरपोरेशन ने ये सभी मामले दबा दिए।

-इतने महंगे और अहम फ्लाईओवर को मौत देने वाला नहीं बना सकते।

-कॉरपोरेशन देश की सेवा नहीं कर रहा, इंजीनियर काम बंद करेंगे तो उन्हें ही कमीशन का नुकसान होगा।

क्‍या है मामला?

-ब्रिज कॉरपोरेशन रामपुर यूनिट के डिप्टी प्रोजेक्ट मैनेजर आरके अग्रवाल ने 25 जून को आजम खान के निरीक्षण करने के दौरान अभद्रता का आरोप लगाया था।

-इंजीनियर एसोसिएशन के आह्वान पर एक दिन की हड़ताल भी हुई थी।

-अग्रवाल के मुताबिक आजम के व्यवहार से इंजीनियर खुद को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story