Top

आजम खान बोले- डरा हुआ है सुप्रीम कोर्ट, ताज-संसद हैं गुलामी की निशानी

Admin

AdminBy Admin

Published on 20 Feb 2016 2:59 PM GMT

आजम खान बोले- डरा हुआ है सुप्रीम कोर्ट, ताज-संसद हैं गुलामी की निशानी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रामपुर: अपने बयानों से हमेशा चर्चा में रहने वाले यूपी के मंत्री आजम खान ने शनिवार को ये कह कर एक और विवाद खड़ा कर दिया कि आज सुप्रीम कोर्ट डरा हुआ है। जिस समय हाईकोर्ट में जेएनयू अध्यक्ष कन्हैया पर हमला हो रहा था उस समय सुप्रीम कोर्ट के जज अपनी कोर्ट में परेशान बैठे थे और कह रहे थे देखिए, क्या हुआ है चार कदम के फासले पर।

आजम ने ये बात एक समारोह में कही। उन्होंने ये भी कहा कि कहां रह गया है देश का कानून। इतना कमजोर देश, जहां सुप्रीम कोर्ट, हाईकोर्ट में हुए कानून के खिलाफ काम पर भी चुप बैठा हो। पीस कहां रह गया है देश में। आजम यहीं नहीं रूके और कहा कि अगर देश में दंगे शुरू हो गये तो कौन रोकेगा इसे।

और क्या कहा आजम ने ?

- दुनिया के सात अजूबे में से एक ताजमहल है गुलामी की निशानी।

-ताजमहल को गिरा देना चाहिए।

-राष्ट्रपति भवन, पार्लियामेंट भी दूसरे नम्बर की गुलामी की निशानी।

-बापू को हिन्दुस्तान में इज्जत नहीं दी जाती।

-बापू की इज्जत हिन्दुस्तान से ज्यादा बाहरी मुल्क में होती है।

- बापू को मारने वालों को इज्जत देना लोकतंत्र का अपमान।

- जेएनयू के छात्र मजहबी लोगों से बेहतर।

-मजहबी लोग धर्म और राजनीति के आड़ में दूसरों को ठगते हैं।

- अपनी सरकार में बने केंद्रीय शिक्षा मंत्री पर भी कसा तंज।

Admin

Admin

Next Story