×

Ajan Controversy: अब PM Modi के क्षेत्र पहुंचा अजान विवाद, लाउडस्पीकर लगा हो रहा है हनुमान चालीसा का पाठ

Ajan Controversy: वाराणसी में कुछ लोगों ने तब लाउडस्पीकर से हनुमान चालीसा का पाठ शुरू किया, जिस वक़्त अजान की आवाज आई। ये मुहिम श्रीकाशी विश्वनाथ ज्ञानवापी मुक्ति आंदोलन की ओर शुरू की गई है।

aman
Updated on: 14 April 2022 8:12 AM GMT
azan controversy in varanasi hindu organization loudspeaker hanuman chalisa path
X

azan controversy in varanasi  

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Azan Controversy In Varanasi : मस्जिदों में लाउडस्पीकर (Mosques Loudspeakers) के जरिये अजान का विवाद महाराष्ट्र (Maharashtra) से अब उत्तर प्रदेश (UP) पहुंच गया। दरअसल, वाराणसी में कुछ लोगों ने तब लाउडस्पीकर से हनुमान चालीसा का पाठ शुरू किया, जिस वक़्त अजान की आवाज आई। ये मुहिम श्रीकाशी विश्वनाथ ज्ञानवापी मुक्ति आंदोलन की ओर शुरू की गई है।

क्या है मामला?

बता दें, कि वाराणसी के साकेत नगर इलाके में सुधीर सिंह रहते हैं। सुधीर श्रीकाशी विश्वनाथ ज्ञानवापी मुक्ति आंदोलन संगठन के अध्यक्ष हैं। उन्होंने अपने इलाके में रहने वाले कुछ साथियों के साथ घर की छत पर खड़े होकर लाउडस्पीकर से हनुमान चालीसा का पाठ शुरू किया। पूछे जाने पर सुधीर बताते हैं, कि 'हर सुबह लाउडस्पीकर पर अजान से लोगों की नींद खराब होती है। नींद में खलल पड़ने का एहसास दिलाने के लिए ही उन्होंने ये किया।

'दबाव में बंद हुए वैदिक पाठ'

सुधीर सिंह मीडिया से बात करते हुए कहते हैं, कि वो हिंदू-मुस्लिम एकता के पक्षधर हैं। लेकिन अकेले हमने ही इसका ठेका नहीं ले रखा है। उन्होंने कहा, 'पहले जब हम जगते थे तो उस समय मानस मंदिर सहित अन्य मंदिरों में वैदिक पाठ होते थे। हनुमान चालीसा का पाठ किया जाता था। लेकिन, धीरे-धीरे इतना दबाव बनाया गया कि ये सब बंद हो गई।

..तो हम क्यों न करें हनुमान चालीसा पाठ

सुधीर सिंह कहते हैं 'सर्वोच्च न्यायालय का आदेश था, कि ध्वनि प्रदूषण नहीं होना चाहिए। हमने मंदिरों से लाउडस्पीकर, भोंपू आदि उतार दिए। मगर, मस्जिदों पर लाउडस्पीकर बढ़ते चले गए। आज स्थिति यह है कि अजान की आवाज से सुबह साढ़े चार बजे नींद खुल जाती है। जिसके बाद हमने भी तय किया, कि जब वो लाउडस्पीकर पर अजान कर रहे हैं, तो क्यों न हम भी वैदिक मंत्रों और हनुमान चालीसा का पाठ करें।'

अजान की आवाज कम रही

हालांकि, सुधीर दावा करते हुए कहते हैं 'कल जब हमने अजान के समय हनुमान चालीसा का पाठ किया, तो आज परिणाम यह हुआ कि उनकी अजान की आवाज कम रही।' सुधीर आगे कहते हैं, 'हम लोग किसी धर्म के खिलाफ नहीं हैं। अजान कीजिए। लेकिन आवाज कम हो। किसी की नींद खराब ना हो। साथ ही, उनको भी बताना जरूरी है कि आप लोग बजाते हैं तो कितनी तकलीफ होती है। जिस दिन वो समझ जाएंगे और धीरे बजाएंगे। तब हम भी धीमे बजाएंगे।

उल्लेखनीय है कि बीते दिनों महाराष्ट्र में महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) के प्रमुख राज ठाकरे ने मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने की चेतावनी दी थी। लाउडस्पीकर से अजान के विरोध में अब हनुमान चालीसा का पाठ किया जा रहा है।

aman

aman

Next Story