×

Ballia: रामलला के प्राण प्रतिष्ठा से पहले कैदियों ने जेल में किया सुन्दर कांड का पाठ

Ballia News: बलिया जिला कारागार में बंद कैदियों ने भी भगवान रामलला के प्राण प्रतिष्ठा के उत्साह में जेल के अंदर ढोलक और झाल जैसे वाद्य यंत्रो के साथ भजन कीर्तन किया और रामायण के अंश सुन्दर कांड का पाठ किया।

Karuna Sindhu Singh
Published on: 21 Jan 2024 4:11 PM GMT
Ballia News
X

Ballia News (Pic:Newstrack)

Ballia News: अयोध्या में होने वाले रामलला के प्राण प्रतिष्ठा के उत्साह में जिला कारागार में बंद कैदियों ने भजन कीर्तन गाया साथ ही रामायण के सुन्दर कांड का पाठ भी किया। 22 जनवरी को होने वाले भगवान रामलला की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर पुरे देश में उत्साह देखने को मिल रहा है। जिले में भी मंदिरो को सजाने के साथ ही वहां पर भजन कीर्तन किया जा रहा है। यही नहीं जिले के हर हिस्से में कलश यात्रा भी निकाली जा रही है। रविवार को बलिया जिला कारागार में बंद कैदियों ने भी भगवान रामलला के प्राण प्रतिष्ठा के उत्साह में जेल के अंदर ढोलक और झाल जैसे वाद्य यंत्रो के साथ भजन कीर्तन किया और रामायण के अंश सुन्दर कांड का पाठ किया।

28 किलोमीटर कि निकाली कलश यात्रा

जेल अधीक्षक राजेंद्र प्रसाद ने बताया कि भगवान रामलला कि होने वाली प्राण प्रतिष्ठा को लेकर कैदियों में भी उत्साह देखने को मिला और कैदियों ने भजन कीर्तन गया। वहीं दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्वमंत्री व बीजेपी नेता उपेंद्र तिवारी ने रविवार को ही कामेश्वर धाम मंदिर कारों से बाबा बालेश्वरनाथ मंदिर बलिया तक लगभग 28 किलोमीटर कि कलश यात्रा निकाली। इस कलश यात्रा में भी लोगों का उत्साह देखने को मिला और हजारों कि संख्या में लोग कलश यात्रा में शामिल हुए।

इस अवसर पर पूर्व मन्त्री उपेंद्र तिवारी ने बताया कि कामेश्वर धाम वही पवित्र और ऐतिहासिक परिसर है जहाँ भगवान राम अपने अनुज लक्ष्मण और महर्षि विश्वामित्र के साथ आसुरी शक्तियों का नाश करने के लिए अयोध्या से चलकर बक्सर के लिए निकले थे और यहाँ पर रात्रि विश्राम किये थे और यहाँ पर विश्राम के बाद बक्सर जाकर ताड़का नाम कि राक्षसी का संघार किये थे। इसलिए जिले के लोगों ने इस स्थान से यात्रा शुरू किया। यात्रा में लोगों के साथ हाथी घोड़े भी चल रहे थे।

Durgesh Sharma

Durgesh Sharma

Next Story