×

नवरात्रि स्पेशल! ये केले आपको बीमार और बेहद बीमार कर देंगे

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 23 Sep 2017 3:19 PM GMT

नवरात्रि स्पेशल! ये केले आपको बीमार और बेहद बीमार कर देंगे
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

मेरठ : नवरात्रि में केले की माँग बढ़ गई है। केलों को गोदामों में कार्बाइड में पकाया जा रहा है। जिसको लेकर खाद्य विभाग की टीम ने शहर और देहात में कई स्थानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी की।

देहलीगेट क्षेत्र स्थित दो केला गोदामों में कार्बाइड से केले पकाते पाए गए। जिसके बाद टीम ने सैम्पल लेते हुए बरामद कार्बाइड को सील कर दिया।

ये भी देखें:अब यूपी के गांव भी होंगे कुपोषण मुक्त, इन 39 जिलों में चलेगा अभियान

-खाद्य विभाग की टीम ने कई स्थानों पर छापेमारी की।

-इस दौरान मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी सर्वेश कुमार के नेतृत्व में दौराला में अशोक कुमार जैन की दुकान से कुट्टू के आटे की सैम्पलिंग की।

-टीम ने बनबटान स्थित परवेज और बुन्दु के दो केला गोदामों पर छापेमारी की। जहाँ भारी मात्रा में कैल्शियम कार्बाइड बरामद हुआ।

-गोदाम के अंदर केलों को कैमिकल लगाकर पकाया जा रहा था। खाद्य विभाग टीम ने दोनों गोदामों से केलों और कार्बाइड के सैम्पल भरकर जांच के लिए भेज दिए है।

-खाद्य विभाग अधिकारियों ने बताया कि जांच रिपोर्ट में कैमिकल पाए जाने पर गोदाम संचालकों के खिलाफ भी कार्यवाही की जाएगी।

-शनिवार को कार्यवाही के दौरान खाद्य विभाग की टीम में दर्पण कुमार, वाईडी आर्या, कुमार चैरसिया आदि शामिल रहे।

सेहत के साथ खिलवाड़

-कैमिकल युक्त केलों की बिक्री दुकानों ओर ठेलो पर हो रही है।

-गोदामों में ही कैमिकल से केलों को तयार किया जा रहा है।

-कैमिकल युक्त केलों की बिक्री कर लोगों की सेहत के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story