बाराबंकी: चोर होने के शक में दलित युवक को ज़िन्दा जलाया

बाराबंकी जनपद के देवा थाना इलाके के तिन्दोला गाँव की रहने वाली पूनम ने देवा थाने में मुकदमा दर्ज कराते हुए बताया है कि एक दिन पहले बीती रात को उनके पति सुजीत गौतम का उनसे झगड़ा हुआ था जिसको लेकर वह अपने मायके चली गयी थी । उसके जाने के बाद उसका पति उसे लेने अपनी ससुराल टेरा गाँव रात के समय जा रहा था।

बाराबंकी: बाराबंकी जनपद के देवा थाना इलाके के तिन्दोला गाँव की रहने वाली पूनम ने देवा थाने में मुकदमा दर्ज कराते हुए बताया है कि एक दिन पहले बीती रात को उनके पति सुजीत गौतम का उनसे झगड़ा हुआ था जिसको लेकर वह अपने मायके चली गयी थी । उसके जाने के बाद उसका पति उसे लेने अपनी ससुराल टेरा गाँव रात के समय जा रहा था। रास्ते में राघवपुर गाँव पहुंचने पर सुजीत को गाँव के कुत्तों ने दौड़ा लिया। जिसके कारण वह अपनी जान को बचाने के लिए एक पेड़ के पीछे छिप गया।

ये भी देखें:ससुराल सिमर के इस एक्टर की दर्दनाक मौत, शोक में डूबा बॉलीवुड

कुत्तों की आवाज सुनकर गाँव वाले जाग गए और चोर-चोर की आवाज लगाने लगे और युवक सुजीत को पकड़ कर बड़ी बेरहमी से मारने लगे। इस दौरान सुजीत ने गाँव वालों को अपनी पहचान बतायी मगर उनकी यातनाएं कम नही हुई। अपनी बहादुरी दिखाते हुए गाँव वालों ने सुजीत को बिजली के करंट के झटके भी लगाए। जब सुजीत ने उनके मनमाफिक मुँह नही खोला तो उस पर पेट्रोल डाल कर जिन्दा जला दिया। गाँव वालों का गुस्सा यहीं शान्त नही हुआ तो सुजीत के बताए पते से उसके ससुर को बुलाया गया और उनकी भी पिटाई कर दी गयी।

ये भी देखें:UP: प्रियंका गांधी जा रही हैं सोनभद्र, हिंसा पीड़ित परिवारों से करेंगी मुलाकात

राजधानी लखनऊ में अपने भाई का इलाज करा रही सुजीत की बहन ने बताया कि उसके भाई और भाभी के बीच झगड़ा हुआ था। झगड़े के बाद उनकी भाभी अपने मायके चली गयी थी। रात के समय उनका भाई सुजीत अपनी ससुराल अपनी पत्नी को लेने जा रहा था। रास्ते में कुछ।लोगों उसके भाई पर हमला कर दिया उन्हें मारापीटा , बिजली के करंट के झटके लगाए और फिर उनके शरीर पर तेल डाल कर आग लगा दी गयी। अब उनका भाई जिन्दगी और मौत की जंग लड़ रहा है।

ये भी देखें:IMA पोंजी स्कैम: दिल्ली एयरपोर्ट पर दुबई से लाये गए मंसूर खान को अरेस्ट

सुजीत की पत्नी पूनम ने थाने में प्राथमिकी दर्ज कराते हुए कहा कि उनका पति अपने बीमार बच्चे को देखने ससुराल आ रहा था और रास्ते में उसे चोर समझ कर बड़ी बेरहमी से मारापीटा गया , बिजली का करंट लगाया गया और फिर तेल डाल कर आग के हवाले कर दिया गया। उसके पति को कुछ हो गया तो उनके दो छोटे-छोटे बच्चे है उनका क्या होगा। उसके पति सुजीत की हालत ठीक नही है वह अभी भी कुछ बोलने की स्थिति में नही हैं।