×

Basti: बस्ती पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, बीजेपी पर जमकर निशाना साधा

Basti: आज पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव बस्ती पहुंचे। अखिलेश यादव ने बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा की बीजेपी लोगों के आंख पर स्मोक स्क्रीन एक ऐसा पर्दा डालती है जिससे अपनी कमियों की छिपा ले।

Amril Lal
Updated on: 18 May 2022 5:29 PM GMT
Basti news in hindi
X

बस्ती पहुंचे अखिलेश यादव। 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Akhilesh Yadav In Basti: आज पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Former Cm Akhilesh Yadav) बस्ती पहुंचे और कार्यकर्ताओं से उन्होंने मुलाकात की। अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने बीजेपी (BJP) पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा की बीजेपी लोगों के आंख पर स्मोक स्क्रीन एक ऐसा पर्दा डालती है जिससे अपनी कमियों की छिपा ले। पूर्व सीएम अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा कि इस बात को समझना पडेगा की जिस तरह से अंग्रेज डिवाइड एंड रूल कर के राज करते रहे, उसी सिद्धांथ को बीजेपी (BJP) आगे बढ़ा रही है, समाज को कैसे बांटा जाए, समाज में कैसे नफरत हो, विपक्ष को एक दूरसे से दूर रहने के लिए बीजेपी लगातार काम कर रही है, जहां तक धार्मिक स्थलों का सवाल है पहले से जो एक्ट बना है।

बुनियादी सवालों पर चर्चा होने पर बीजेपी का हो जाएगा सफाया: अखिलेश यादव

साथ में अखिलेश ने कहा कि 1991 एक्ट की बीजेपी को परवाह नहीं है, जिस समय सुप्रीम कोर्ट में फैसला हुआ, उसमें जो बात रखी गई, उस की बीजेपी को परवाह नहीं है, बीजेपी जानती है की बुनियादी सवालों पर अगर चर्चा होगी तो बीजेपी का सफाया हो जाएगा। जिस तरह से चुनाव के बाद डीजल पेट्रोल मंहगा हुआ है, स्टील, सीमेंट मंहगी हुई है, खाने का तेल मंहगा हुआ है हर चीज की मंहगाई बढ़ रही है, हमारा पढ़ा लिखा यूथ बेरोजगार है, यूथ आगे कैसे पढे और रोजगार पाए सरकार उस दिशा में काम नहीं कर रही है, सरकार ने बड़े-बड़े सपने दिखा रही है कि इंवेस्टमेंट आएगा रोजगार मिलेगा इन सवालों का जवाब न देना पड़े इसी लिए बीजेपी जानबूझ करके स्मोक स्क्रीन एक ऐसा पर्दा डालती है जिससे अपनी कमियों को छिपा ले

बनारस मामले के पीछे बीजेपी: अखिलेश

अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा कि बनारस में जो मामला चल रहा है उसके पीछे जानबूछ कर बीजेपी (BJP) है क्योंकि उन्हें बैंकों को बेचना है, सीमेंट की फैक्ट्रियों को बेच कर अपने लोगों को लाभ पहुंचाना है, एलआईसी (LIC) का प्राइवेटाइजेशन होना है ये जो बड़े-बड़े संस्थानों, बैंकों का मर्ज होना और उनका डूबना, इसके अलावा जिस तरह से पूरे प्रदेश का 5-6 लोगों ने गेहूं खरीद लिया और वह गेहूं विदेश जा रहा था।

गेहूं के विदेश भेजने पर वैन लगाने पर भाजपा को घेरा

अखिलेश ने कहा कि 4 हजार से ज्यादा ट्रक केवल राजकोट में खड़े थे, गुजरात के बड़े पोत पर यूपी और एमपी का गेहूं रखा था, जब सरकार को पता चला गेहूं पहुंच गया है। केवल जनता को धोखा देने के लिए गेहूं के विदेश भेजने पर वैन लगा दिया गया, जैसे ही बनारस और ताजमहल का मामला आगे बढ़ा उन्होंने अनुमति दे दी। गेहूं विदेश चला जाएगा, अब गांव में डुगडुगी बजवा रहे हैं कि जिसके पास ट्रैक्टर होगा, एसी होगा उसको राशन का पैसा वापस करना पडेगा, यह गरीबों से भी मुनाफा कमाना चाहते हैं।

बुलडोजर पर भी पूर्व सीएम ने किया पलटवार

पूर्व सीएम ने बुलडोजर पर भी पलटवार किया। उन्होंने कहा की बुलंदशहर में एक पत्नी अपने पती को जगाने जा रही थी, वो पत्नी अपने पति को नहीं जगा पाई आगे बुलडोजर ने काम किया और उसके पति की जान चली गई, एक मजदूर घर से सब्जी बेचने गया जब घर लौटा तो पता चला बुलडोजर से उस का घर गिर गया। अगर सरकार बुलडोजर से घर गिरा रही है तो मुख्यमंत्री ने कल ही कैंसर इंस्टीट्यूट (Cancer Institute) का उद्घाटन किया है, वो इल्लीगल है क्या सरकार उस पर बुल्डोजर चलाएगी, जिस थाने में बेटी का बलात्कार हुआ क्या उस पर बुल्डोजर चलेगा।

राज्यपाल पर अखिलेश ने बोला हमला

वहीं, राज्यपाल पर भी अखिलेश ने हमला बोला कहा की याद कीजिए एक राज्यपाल वो थे जो बताते थे उत्तर प्रदेश में कितने अधिकारी किस जाति के हैं, उस समय के राज्यपाल अगर अधिकारियों की गिनती जाति के हिसाब से कर सकते थे तो आज के राज्यपाल जाति के आधार पर गिनती नहीं करेंगे।

Deepak Kumar

Deepak Kumar

Next Story