Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

मुख्तार पर ताबड़तोड़ एक्शन: हिरासत में ये तीन करीबी, पूछताछ जारी

माफिया मुख्तार अंसारी को लेकर बड़ी खबर मिली है। मुख्तार अंसारी के तीन करीबियों को पुलिस ने अपनी हिरासत...

Vidushi Mishra

Vidushi MishraBy Vidushi Mishra

Published on 4 April 2021 1:52 PM GMT

मुख्तार पर ताबड़तोड़ एक्शन: हिरासत में ये तीन करीबी, पूछताछ जारी
X

फोटो-सोशल मीडिया

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ। माफिया मुख्तार अंसारी को लेकर बड़ी खबर मिली है। मुख्तार अंसारी के तीन करीबियों को पुलिस ने अपनी हिरासत में ले लिया है। हिरासत में लिए गए तीन करीबियों के नाम इस प्रकार हैं- शोएब उर्फ बॉबी, सैयद फिरोज हसन और काशिफ वकील। पुलिस एंबुलेंस केस और जिले में मुख्तार के नेटवर्क को लेकर सभी से पूछताछ कर रही है। बताया जा रहा कि बाहुबली MLA मुख्तार अंसारी का बाराबंकी में मजबूत नेटवर्क है। मुख्तार अंसारी के जेलर हत्याकांड के बाराबंकी निवासी शूटर से भी काफी नजदीकी संबंध हैं।

मुख्तार कल यूपी में

एक और बड़ी खबर ये है कि पंजाब की रोपड़ जेल में बंद माफिया डॉन मुख्तार अंसारी को कल यूपी लाया जाएगा। ऐसे में एडीजी प्रयागराज जोन प्रेम प्रकाश को मुख्तार अंसारी को पंजाब से बांदा जेल लाने की जिम्मेदारी सौपी गई है। प्रेम प्रकाश कल पंजाब निकलेंगे। आईजी चित्रकूट भी टीम के साथ प्रेम प्रकाश पंजाब जाएंगे। जानकारी के अनुसार, कल रात तक मुख़्तार अंसारी को लेकर बांदा जेल लाया जाएगा। साथ ही मुख्तार को सड़क मार्ग से ही लाने की तैयारी है। जोकि सुबह तड़के टीम रवाना होगी।

इसी महीने 8 अप्रैल से पहले तक मुख्तार अंसारी को यूपी लाना है। इसको लेकर तैयारियों को करीब-करीब अंतिम रूप दिया जा चुका है। जिसके तहत कल जो विशेष टीम यूपी से पंजाब के लिए रवाना होगी, उसमें न केवल यूपी पुलिस के जवान रहेंगे, बल्कि खास कमांडो दस्ता भी रहेगा। फिर मुख्तार को बांदा जेल में पूरी तैयारी है। करीब 27 महीने बाद मुख्तार अंसारी को यूपी लाया जा रहा है।

शूटर बाराबंकी की कचहरी में वकालत

बता दें, सन् 2006 में मुख्तार के शूटर कहे जाने वाले सफेदपोश की कोतवाली नगर में हिस्ट्रीशीट खुली थी। ऐसे में सन् 2011 से अब तक किसी प्रकरण में शूटर का नाम नहीं आया। वहीं अब यह शूटर बाराबंकी की कचहरी में वकालत कर रहा है।

इसके साथ ही मुख्तार से जुड़े प्रदेशभर के सभी लोग पुलिस की रडार पर हैं। वहीं इस शूटर को लेकर भी बाराबंकी में चर्चाओं का बाजार गर्म है।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story