Top

बिजनौर में पुरानी रंजिश में चाचा-भतीजे का मर्डर, दिन दहाड़े हुई हत्या

बिजनौर के धौकलपुर में दिनदहाड़े चाचा भतीजे की गोली बरसा कर हत्या करने का मामला प्रकाश में आया है।

पुरानी रंजिश को लेकर गांव कोतवाली शाहत के गांव धौकलपुर में दिनदहाड़े चाचा भतीजे की गोली बरसा कर हत्या करने का मामला प्रकाश में आया है।
X

मर्डर केस(फोटो-सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बिजनौर: पुरानी रंजिश को लेकर गांव कोतवाली शाहत के गांव धौकलपुर में दिनदहाड़े चाचा भतीजे की गोली बरसा कर हत्या करने का मामला प्रकाश में आया है। पुलिस जांच पड़ताल में पता चला है कि यह चाचा भतीजे अभी हाल फिलहाल में ही जेल से 2 साल की सजा काटकर गांव वापस लौटे थे।

चाचा भतीजे ने और उनके साथी ने मिलकर गांव के ही अमन नाम की दो साल पहले गोली मारकर हत्या कर दी थी। जिसके बाद से दोनों पक्षों में रंजिश चली आ रही थी। इसी रंजिश को लेकर दूसरे पक्ष के लोगों ने आज ट्रैक्टर से गांव लौट रहे चाचा भतीजा की गोली मारकर हत्या कर दी है।

सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक परिजनों की तहरीर के आधार पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

चली ताबड़तोड़ गोलियां

गांव धौकलपुर में पुरानी रंजिश को लेकर गांव के रहने वाले वीर सिंह और उसके भतीजे अंकुर कि आज दिनदहाड़े उस समय गोलियों से भून कर हत्या कर दी जब वह अपने खेत से ट्रैक्टर द्वारा काम करके वापस अपने गांव लौट रहे थे। तभी रास्ते में दूसरे पक्ष के लोगों ने घेर कर उन पर गोलियां बरसा दी।

इससे अंकुर और वीर सिंह की मौके पर ही मौत हो गई। हत्याकांड को अंजाम देने के बाद विरोधी खेमे के लोग मौके से फरार हो गए दोहरा हत्याकांड का पता लगते ही पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। पुलिस के सभी अधिकारी मौके पर पहुंच गए।

पूरे मामले की जानकारी पुलिस के अनुसार मारे गए अंकुर और वीर सिंह आपस में चाचा भतीजे से इनका गांव के ही दूसरे पक्ष के लोगों से 2 साल पहले छेड़छाड़ के मामले को लेकर हुई हत्या में विवाद चल रहा था। जिसमें यह दोनों और एक अन्य व्यक्ति फिलहाल ही जेल से छूटकर आए थे और आज दूसरे पक्ष ने इस घटना को अंजाम दे दिया है।

परिजनों ने 4 लोगों के नाम बताए हैं जो इनके विरोधी पक्ष के समर्थक हैं। इन सभी को गिरफ्तार करने के लिए चार टीमों का गठन किया गया है।जल्दी घटना को अंजाम देने वाले आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा ।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story