Top

बहराइच में जन्मी अजीबोगरीब बच्ची, शिव मानकर शुरू कर दी लोगों ने पूजा

shalini

shaliniBy shalini

Published on 10 May 2016 5:46 AM GMT

बहराइच में जन्मी अजीबोगरीब बच्ची, शिव मानकर शुरू कर दी लोगों ने पूजा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बहराइच: घर में बेटी के जन्‍म पर कुछ लोग खुश, तो कुछ लोग हैरान हो जाते हैं। लेकिन बहराइच के महि‍ला जिला अस्‍पताल में जन्‍मी एक बच्‍ची ने न केवल अपने परिवार वालों बल्कि दूर-दूर तक के लोगों को भी हैरान कर दिया है। बहराइच के महिला जिला अस्पताल में एक मां ने विचित्र बच्ची को जन्म दिया। जिससे अस्पताल में बच्ची को देखने के लिए तांते लग गए।

परिजनों ने बच्ची का जन्म भगवान का अवतार बताया। जिसके चलते अस्पताल में मौजूद लोगों ने बच्ची को चेहरा देखने के बाद उसे भगवान शिव का अवतार मानकर पूजा-अर्चना शुरू कर दिए। पूजा करने के लिए जिला महिला अस्पताल के सामने भारी संख्या में भीड़ एकत्रित हो गई। लोगों ने रूपए-पैसे चढ़ाकर पैर छूकर आर्शीवाद लिया।

क्‍या है पूरा मामला

-जिला महिला अस्पताल में मंगलवार की सुबह रानीपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत मालिनपुरवा गांव रमेश की पत्नी को प्रसव पीड़ा शुरू हुई।

-रमेश प्रसव कराने के लिए अपनी पत्नी को जिला महिला अस्पताल लेकर पहुंचे।

-यहां पर मौजूद डाक्टरों ने चेक किया और प्रसव कक्ष में ले गए।

cvbxdfg

-थोड़ी देर बाद डाक्टरों ने बताया कि शीला ने बच्ची को जन्म दिया है।

-यह सुनते ही परिवार में खुशी की लहर दौड़ उठी।

-लेकिन थोड़ी ही देर बाद उसकी मां ने बताया कि बच्ची के सर के पीछे कुछ निकला हुआ है।

शिव का प्रतिरूप मान करने लगे लोग पूजा अर्चना

-परिजन बच्ची को लेकर अस्पताल गेट पर लेकर आए, तो वहां पर मौजूद लोगों ने देखा।

-इसपर बाहर वालों ने कहा कि ये आम बच्ची नहीं है।

-आपके घर में भगवान शिव ने जन्म लिया है।

fsdfs

-थोड़ी ही देर बाद वहां पर पूजा-अर्चना शुरू हो गया।

-लोग लाइन लगाकर पूजा करने के लिए खड़े होकर अपनी बारी आने का इंतजार करने लगे।

-जिसके चलते वहां भारी मात्रा में भीड़ एकत्रित हो गई।

क्या कहते हैं बाल रोग विशेषज्ञ

-इस संबध में सीनियर बाल रोग विशेषज्ञ डा. के.के वर्मा से बात की गई।

-उन्होंने बताया कि कंजलनाइटली से ऐसा हो जाता है।

-कभी-कभी रिजेडेशन व दवाइयां खाने से भी पैदा होने वाले बच्‍चों में ऐसे डिफेक्‍ट आ जाते हैं।

rtger

shalini

shalini

Next Story