×

खबर का असर: बीजेपी विधायक मृतकों के परिजनों से मिले, मदद का दिया आश्वासन

थाना जलालाबाद के धियेंरा गांव का मामला है। पति-पत्नी समेत तीन बच्चों की रहस्यमयी बुखार से मौत का मामला है। खबर दिखाए जाने के बाद एसडीएम जलालाबाद सत्यप्रिये सिंह, डिप्टी सीएमओ संजय अग्रवाल, तहसीलदार, समेत तमाम अधिकारी पहुंचे।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 1 Oct 2017 10:42 AM GMT

खबर का असर: बीजेपी विधायक मृतकों के परिजनों से मिले, मदद का दिया आश्वासन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

शाहजहांपुर: थाना जलालाबाद के धियेंरा गांव का मामला है। जहां पति-पत्नी समेत तीन बच्चों की रहस्यमयी बुखार से मौत हो गई। खबर दिखाए जाने के बाद एसडीएम जलालाबाद सत्यप्रिये सिंह, डिप्टी सीएमओ संजय अग्रवाल, तहसीलदार, समेत तमाम अधिकारी पहुंचे।

newstrack.com पर खबर चलने के बाद तिलहर विधानसभा से बीजेपी विधायक रोशन लाल वर्मा, सपा से पूर्व सांसद मिथलेश कुमार, डीएम नरेंद्र सिंह, एसडीएम सत्यप्रिये सिंह व तहसीलदार मौके पर पहुंचे और परिवार को हर संभव मदद करने का किया ऐलान।

स्वास्थ्य विभाग ने लगाया मेडिकल कैंप, जलालाबाद एसडीएम ने newstrack.com से फोन पर बात कर बताया कि स्वास्थ्य विभाग और प्रशासनिक अधिकारी गांव आए हैं। उन्होंने परिवारवालों को मदद का आश्वासन भी दिया।

ये भी पढ़ें... शाहजहांपुर में रहस्यमयी बुखार से एक ही परिवार के 5 सदस्यों की मौत

उनका कहना है कि सबसे पहले मृतक का अंतिम संस्कार कराया जाएगा। साथ ही बीमार दो बेटियों के ब्लड सैंपल लेकर जिला चिकित्सा मुख्यालय भेजा गया है। इसके साथ ही गांव में पानी का भी सैंपल लेकर भेजा गया है। ये परिवार बेहद गरीब है और साथ ही कच्चा घर है। इसलिए तीस हजार रुपए की तत्काल मदद और साथ ही विवेकाधीन राहत कोष से पांच लाख रुपए मदद के लिए लिखा जाएगा।

आपको बता दें, सीएम योगी के सबसे करीबी कैबिनेट मंत्री सुरेश कुमार खन्ना शाहजहांपुर के विधायक है। लेकिन मंत्री जी के पास इतना समय नहीं है कि वह महज 30 किलोमीटर दूर जाकर इस परिवार से मिले और उनकी मदद करें। इससे पहले जब मंत्री जी ने जिम का उद्घाटन किया था तब उनसे सवाल किया था कि यहां उद्घाटन करने आए है आप तो तीस किलोमीटर दूर रहस्यमयी बीमारी से 14 बच्चे अपनी जान गवां चुके है वहां कब जाएंगे। इस सवाल पर उनके पास कोई जवाब नहीं था। कुछ देर रुकने के बाद उन्होंने कहा था कि वहां जाने के लिए प्रोग्राम बनाते है।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story