×

Varun Gandhi: राशन कार्ड के नए नियम पर भड़के वरूण गांधी, योगी सरकार से पूछा ये सवाल

Varun Gandhi: वरूण गांधी इस बार सरकार के नए राशन कार्ड नियम को लेकर भड़के हुए हैं।

Krishna Chaudhary
Updated on: 21 May 2022 9:21 AM GMT
Varun Gandhi angry
X
बीजेपी सांसद वरूण गांधी (Social media)
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Varun Gandhi Angry: उत्तर प्रदेश के पीलीभीत लोकसभा सीट से बीजेपी सांसद वरूण गांधी के बागी तेवर बरकरार हैं। बीते कुछ समय से लगातार अपनी ही पार्टी और सरकार पर हमलावर रहे बीजेपी सांसद ने एकबार फिर योगी सरकार को निशाने पर लिया है। वरूण इस बार सरकार के नए राशन कार्ड नियम को लेकर भड़के हुए हैं। उन्होंने राज्य सरकार से पूछा है कि राशन कार्ड खोने वाले करोड़ों लोगों की याद सरकार को कब आएगी।

दरअसल इन दिनों सरकार राशन कार्ड को लेकर नए नियम बना रही है। नए नियम के कारण करोड़ों राशनकार्ड धारकों के सामने मुश्किलें खड़ी हो गई हैं और उनको अपना राशन कार्ड गंवाना पड़ रहा है। इसी को लेकर पूर्व केंद्रीय मंत्री और सुल्तानपुर से बीजेपी सांसद मेनका गांधी के सांसद बेटे वरूण गांधी ने सरकार पर निशाना साधा है।

वरूण ने ट्वीट कर साधा निशाना

वरूणा गांधी लगातार ट्वीटर के माध्यम से भाजपा सरकार के खिलाफ अपनी नाराजगी को जाहिर करते रहते हैं। राशन कार्ड मसले पर भी अपनी ही सरकार को घेरने के लिए उन्होंने ट्वीटर का सहारा लिया है। पीलीभीत सांसद ने ट्वीट करते हुए कहा कि चुनाव से पहले पात्र और चुनाव के बाद अपात्र ? जनसामान्य के जीवन को प्रभावित करने वाले सभी मानक अगर 'चुनाव' देख कर तय किए जाएँगे तो सरकारें अपनी विश्वसनीयता खो बैठेंगी। चुनाव खत्म होते ही राशनकार्ड खोने वाले करोड़ों देशवासियों की याद सरकार को अब कब आएगी? शायद अगले चुनावों में..!

वरुण गांधी के बागी रूख को लेकर अटकलें

वरुण गांधी के बागी रूख को लेकर अटकलें बीते लंबे समय से सियासी गलियारों में लगाई जा रही है। पिछले दो सालों से वरूण गांधी मोदी सरकार और योगी सरकार के खिलाफ लगातार बोलते रहे हैं। उन्होंने कई ऐसे बयान दिए हैं, जिन्होंने पार्टी को असहज किया है। हालिया यूपी विधानसभा चुनाव में भी उनके कई बयानों ने पार्टी के लिए मुश्किलें खड़ी कर दी थीं।

ऐसे में सियासी जानकार मानते हैं कि उनका बीजेपी से अब मोहभंग होता जा रहा है। मां मेनका गांधी और स्वयं की पार्टी और सरकार में हो रही लगातार उपेक्षा को उनके बागी रूख का कारण बताया जा रहा है। मीडिया रिपोर्टेस में ऐसे दावे हैं कि वरूण गांधी और उनकी चचेरी बहन कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के बीच कई दफे मुलाकात हो चुकी है। बताया जा रहा है कि गांधी परिवार के इन दो सदस्यों के बीच संबंध काफी मधुर हैं।

Ragini Sinha

Ragini Sinha

Next Story