×

जनवरी में ब्लू तो दिसंबर में एक्वा लाइन पर होगा व्यवसायिक संचालन 

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 4 Nov 2018 11:46 AM GMT

जनवरी में ब्लू तो दिसंबर में एक्वा लाइन पर होगा व्यवसायिक संचालन 
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नोएडा: जिले में सिटी सेंटर से सेक्टर-62 तक मेट्रो एक्सटेंशन पर कार्य किया जा रहा है। 5.7 किलोमीटर इस एलिवेटड कोरिडोर का निर्माण किया जा चुका है। इसका 100 प्रतिशत काम पूरा है। कयास लगाए जा रहे है कि दिसंबर तक इस रूट पर मेट्रो ट्रायल शुरु किया जाएगा। ट्रैक पर 45 दिन तक ट्रायल किया जाएगा। इसके बाद इसे व्यवसायिक संचालन के लिए शुरू कर दिया जाएगा। उधर, एक्वा लाइन पर मेट्रो संचालन के लिए ट्रायल चल रहा है। 15 नवंबर के बाद रेलवे सुरक्षा अधिकारियों द्वारा इसका निरीक्षण किया जाएगा। यहा से हरी झंडी मिलते ही इसका भी व्यवसायिक संचालन शुरू कर दिया जाएगा।

ये भी देखें: इस बार टोल फ्री कुंभ का आनंद लीजिए, देखिए शाही स्नान की भव्यता

अभी चल रही ब्‍लू लाइन

वर्तमान में शहर में ब्लू लाइन अपनी सेवा दे रही है। नोएडा सेक्टर-15 से सिटी सेंटर तक इसका विस्तार है। इस विस्तार को आगे बढ़ाने की कवायद की जा चुकी है। सितंबर 2018 में जारी एक सर्वे रिपोर्ट के अनुसार डीएमआरसी की एक्सटेंशन योजना सिटी सेंटर से सेक्टर-62 का कुल 85 प्रतिशत से ज्यादा का कार्य पूरा किया जा चुका है। इसमे कुछ ऐसे कार्य भी हैं, जिनका बाह्य निर्माण कार्य 90 से 100 प्रतिशत तक पूरा हो चुका है। एक नजर में देखे तो वायाडक्ट यानी 5.7 किलोमीटर लंबे एलिवेटड खाका स्टेशन निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। स्टेशनों पर 10 प्रतिशत से कम का फिनिशिंग कार्य शेष रह गया है। जिसका काम किया जा रहा है। हालांकि स्टेशनों पर इलेक्ट्रिक का कार्य 20 प्रतिशत शेष रह गया है।

ये भी देखें: मेडिकल एजुकेशन निदेशालय में 280 सहायक प्रोफेसरों के पदों पर निकली भर्ती

स्‍टेशन होंगे सुविधाओं से लैस

स्टेशनों पर मुसाफिरों के चढ़ने व उतरने के लिए 25 लिफ्ट व 25 स्वाचालित सिढ़ियों का निर्माण किया जा रहा है। जिसमें 20 लिफ्ट व 20 स्वाचालित सीढ़ियों का निर्माण व इनको लगाने का कम पूरा किया जा चुका है। महज कुछ मीटर ट्रेक बिछाने कार्य शेष है। सितंबर तक 5 किलोमीटर ट्रेक बिछाया जा चुका है। सिग्नल और संचार प्रणाली पर कार्य किया जा रहा है। जिसे नवंबर तक पूरा कर लिया जाएगा। हालांकि मौजूदा स्थिति को देखते हुए इसका ट्रायल दिसंबर में शुरू कर दिया जाएगा। लेकिन डीएमआरसी की तरफ से इसकी औपचारिक घोषणा अ•ाी नहीं की गई है। दिसंबर में ट्रायल होने के साथ ही रेलवे सुरक्षा अधिकारियों द्वारा इसकी जांच पड़ताल की जाएगी। माना जा रहा है नए साल से इसका व्यवसायिक संचालन शुरू किया जा सकता है।

ये भी देखें: पानी की टंकी पर चढ़ गए सैंकड़ों किसान, किया अनोखा प्रदर्शन

रेलवे सुरक्षा अधिकारी कर सकते है निरीक्षण

एक्वा लाइन के चालू हो जाने से ग्रेटर नोएडा के मुसाफिर दिल्ली के किसी •ाी कोने तक आसानी से जा सकेगा। इसके लिए जल्द ही इसे सेक्टर-71 में ब्लू लाइन से जोड़ा जाएगा। एक्वा लाइन मेट्रो रूट पर 21 मेट्रो स्टेशन बनाए गए हैं, जिसमें 15 नोएडा और छह स्टेशन ग्रेटर नोएडा में हैं। दोनों की पहचान अलग-अलग रंगों से की जा सकेगी। इसका 100 प्रतिशत निर्माण कार्य हो चुका है। ट्रायल किया जा रहा है। रेलवे की तरफ से कई बार इसका निरीक्षण किया जा चुका है। कयास लगाए जा रहे है कि 15 से 20 नवंबर के बीच रेलवे सुरक्षा अधिकारी द्वारा इसका फाइनल निरीक्षण किया जाएगा। रिपोर्ट सहीं होने पर इसे हरी झंडी दिखाई जाएगी। दिसंबर में इसका व्यवसायिक संचालन किया जा सकेगा। ट्रैक पर अधिकतम गति 95 किलोमीटर व न्यूनतम गति 35 किमीप्रति घंटा होगी। इसके निर्माण में 5503 करोड़ रुपये खर्च किए जा रहे हैं।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story