Top

गोरखपुर-मंडुआडीह इंटरसिटी का इंजन हुआ अलग, बाल-बाल बचे सैकड़ों यात्री

Admin

AdminBy Admin

Published on 28 Feb 2016 4:15 PM GMT

गोरखपुर-मंडुआडीह इंटरसिटी का इंजन हुआ अलग, बाल-बाल बचे सैकड़ों यात्री
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गोरखपुर: गोरखपुर-मंडुआडीह इंटरसिटी एक्सप्रेस के यात्रियों की जान उस वक्त खतरे में पड़ गई जब मऊ स्टेशन के आउटर पर इंजन ट्रेन से अलग हो गया। हालांकि, इंजन को वापस लाकर ट्रेन से जोड़ने में रेल प्रशासन को काफी मशक्कत करनी पड़ी। इस पूरी प्रक्रिया में ट्रेन लगभग डेढ़ घंटे तक लेट हो गई और यात्रियों में आक्रोश बढ़ गया।

क्या है मामला?

-मंडुआडीह इंटरसिटी एक्सप्रेस 15104, वाराणसी से सुबह 5:25 बजे से चलकर गोरखपुर जंक्शन पर 11 बजकर 10 मिनट पर पहुंचती है।

-यात्रियों के मुताबिक रविवार को ट्रेन मऊ स्टेशन के आउटर रेलवे लाइन किनुपुर पहुंची।

-यहां चलती हुई ट्रेन का इंजन बोगियों से अलग हो गया।

-रेल प्रशासन को जानकारी होने पर दोबारा इंजन वापिस लाकर बोगियों को जोड़ दिया गया।

-इसमें लगभग एक-डेढ़ घंटे का वक़्त लग गया। इससे ट्रेन गोरखपुर स्टेशन पर लेट पहुंची और यात्रियों में आक्रोश फैल गया।

-यात्रियों ने इस तरह की खामियों के लिए रेल प्रशासन को ज़िम्मेदार ठहराया।

क्या कहते हैं अधिकारी?

-नॉर्थ ईस्ट रेलवे के चीफ पब्लिक रिलेशन ऑफिसर संजय यादव ने कहा- मामला वाराणसी डीआरएम के संज्ञान में है।

-घटना की जानकारी होने पर डीआरएम वाराणसी ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

Admin

Admin

Next Story