×

Aligarh Crime News: नौकरी का झांसा देकर जीजा ने ठगे लाखों रुपए, पुलिस ने किया गिरफ्तार

नौकरी का झांसा देकर लाखों रुपए की चपत लगाने वाला जीजा को आज पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

Garima Singh

Garima SinghReport Garima SinghDeepak RajPublished By Deepak Raj

Published on 24 July 2021 2:08 PM GMT

fraud in police custody
X

पुलिस के गिरफ्त में नौकरी के नाम पर ठगने वाला व्यक्ति

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Aligarh News: नौकरी लगवाने के नाम पर छह लाख रुपये की ठगी करने वाले आरोपी को इगलास पुलिस ने गोंडा मोड़ से गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार मथुरा के थाना नौहझील के गांव हसनपुर निवासी संजू व विष्णु के खिलाफ नौकरी लगाने के नाम पर धोखाधड़ी कर 6 लाख रुपये ठगी करने का मुकदमा दर्ज किया गया था। यह मुकदमा एसएसपी कलानिधि नैथानी के आदेश पर थाना इगलास पुलिस ने दर्ज किया था। वहीं शनिवार को वांछित आरोपी संजू चौधरी को दरोगा राम कुमार ने गिरफ्तार कर लिया।


इगलास थाना


नेवी में नौकरी का दिलाया भरोसा

बताया जा रहा है कि इगलास थाना क्षेत्र के चुरा नगला गांव में रहने वाली रेखा देवी के बेटे और उसके दोस्त की नेवी में नौकरी लगवाने का भरोसा संजू ने दिया था। रेखा विधवा है और अपने बेटों की नौकरी के लिए रिश्ते में लगने वाले जीजा संजू चौधरी के झांसे में आ गई। वही संजू चौधरी ने भी नेवी में नौकरी लगवाने के नाम पर पांच लाख -पांच लाख रुपये मांगे। रेखा ने अपने बेटे की नौकरी लगवाने के लिए तीन लाख बीस हजार रुपये और शिवम की मां गीता शर्मा ने दो लाख 80 हजार रुपये संजू चौधरी को दे दिया था।

नौकरी के नाम पर एडमिशन और ट्रेनिंग कराई

रुपए दिए जाने के बाद नौकरी नहीं लगने पर संजू टालमटोल करने लगा। संजू ने कहा कि यह सरकारी काम है और इसमें समय लगता है। इस बीच 15 मार्च 2021 को रजिस्ट्री के माध्यम से दोनों के पास कॉल लेटर आया और इस कॉल लेटर को लेकर कपिल और शिवम जयपुर रुद्राक्ष शिपिंग सर्विस गये। वहां कर्मचारियों ने बताया कि यह नौकरी का कॉल लेटर नहीं है। बल्कि एडमिशन का है। इस संबंध में जब संजू चौधरी और विष्णु से कहा गया।

तो उन्होंने 70 -70 हजार रुपये और जमा करने और ट्रेनिंग के बाद नौकरी लगने की बात कही। रुपए जमा करने के बाद दोनों ने 25 दिन जयपुर में रहकर ट्रेनिंग की। लेकिन नौकरी नहीं लगी। इस संबंध में पीड़ित पक्ष ने एसएसपी कलानिधि नैथानी से शिकायत की थी और धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए कार्यवाही की मांग की। जिस पर थाना इगलास में संजू चौधरी और विष्णु के खिलाफ नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया था। वहीं पुलिस ने आरोपी संजू को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

Deepak Raj

Deepak Raj

Next Story