×

Aligarh News: अलीगढ़ में करणी सेना का एलान, AMU में जिन्ना की तस्वीर बर्दाश्त नहीं

सूरजपाल अम्मू ने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में जिन्ना की तस्वीर लगी होने पर कहा कि करणी सेना यह बर्दाश्त नहीं करेगी।

Garima Singh

Garima SinghReport Garima SinghAshikiPublished By Ashiki

Published on 1 Aug 2021 4:17 PM GMT

Karni Sena
X

अलीगढ़ में करणी सेना का जिला स्तरीय सम्मेलन

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

अलीगढ़ : करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सूरजपाल अम्मू रविवार को अलीगढ़ में रघुनाथ पैलेस में जिला स्तरीय सम्मेलन में मुख्य अतिथि के रुप में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने ओवैसी पर जमकर प्रहार किया। साथ ही अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में लगी जिन्ना की तस्वीर को भी आड़े हाथ लिया।

ओवैसी को लेकर उन्होंने कहा कि अपनी दुकान हैदराबाद में ही चलाएं। मायावती के लिए उन्होंने कहा कि तिलक, तराजू और तलवार का नारा देने वाले की सरकार यूपी में कभी नहीं आएगी। वहीं अखिलेश यादव को टोटी चोर बता कर उनपर भी तंज किया।

सूरजपाल अम्मू ने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में जिन्ना की तस्वीर लगी होने पर कहा कि करणी सेना यह बर्दाश्त नहीं करेगी। उन्होंने मंच से सीधे कहा कि हम जिन्ना के बाप हैं। जब हमने पाकिस्तान बना कर दे दिया फिर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के अंदर जिन्ना की तस्वीर क्यों लगाएं? उन्होंने कहा कि जो जिन्ना का समर्थन करते हैं वह जब चाहे मैदान में आ जाएं। वहीं उन्होंने कहा कि अगर पाकिस्तान या लाहौर जाने के लिए जिन्ना समर्थकों पर पैसे नहीं है तो करणी सेना पाकिस्तान सीमा तक छोड़ने के लिए पैसे देगी।


एएमयू से जिन्ना की फोटो हटाने के लिए उन्होंने कहा कि हम देश के राष्ट्रपति और उत्तर प्रदेश के महामहिम राज्यपाल से इस पर कार्रवाई करने की मांग करते हैं। क्योंकि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय जिन्ना के बाप की नहीं है। एएमयू बनाने के लिए जमीन राजा महेंद्र प्रताप सिंह के परिवार ने दी थी। करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि अगर जिन्ना की तस्वीर एएमयू में लगी है तो करणी सेना उसे हटाने का काम करेंगी।

उन्होंने कहा कि मेरे नाना अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में पढ़े और अपने गांव का विकास किया, लेकिन अगर अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में कोई पढ़कर आतंकी बनेगा। तो करणी सेना उसका इलाज करेगी। उन्होंने कहा कि जो राजनीतिक दल के नेता चुनाव जीतकर आते हैं और जनता के मुद्दों से भटकते हैं. करणी सेना उन्हें काम करने का तरीका सिखाएगी।


सूरज पाल अम्मू ने कहा कि हम समाज में जहर नहीं बोते। सभी जातियों को लेकर साथ चल रहे हैं। करणी सेना मुसलमानों के खिलाफ नहीं है। हम उनके खिलाफ है जो निकिता को सरेआम गोली मारते हैं। उन्होंने कहा कि हमारे देश का संविधान हमें सेकुलरिज्म सिखाता है और उसका पालन करते हैं। यूपी में बसपा के ब्राह्मण सम्मेलन आयोजन करने के सवाल पर कहा कि करणी सेना 36 बिरादरी का संगठन है और हमारे संगठन में ब्राह्मण के साथ अन्य जाति के लोग शामिल है। हमारा विश्वास जात-पात में नहीं है। हम हिंदुत्व की बात करते हैं। अगर मायावती और मुलायम सिंह को आज ब्राह्मण याद आ रहे हैं तो मुझे हंसी आ रही हैं। इन लोगों को कुर्सी के अलावा और कुछ नहीं दिखता।

उन्होंने कहा करणी सेना चाहे ओवैसी हो या अन्य लोग साजिश करने वाले हो। समय आने पर बतायेगें। उत्तर प्रदेश के हर जिले में करणी सेना का जिला सम्मेलन होगा। उन्होंने कहा कि चुनाव आने से पहले योगी जी से इस संबंध में बात करेंगे। करनी सेना को गैर राजनीतिक संगठन बताते हुए कहा कि जनता की समस्याओं को लेकर के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलेंगे।

Ashiki

Ashiki

Next Story