×

योगी सरकार बदलेगी एक और जिले का नाम जानिए कौन है वह नगर

Yogi government: उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में चल रही भाजपा सरकार फैजाबाद और इलाहाबाद के बाद अब इस प्रदेश के एक और जिले का नाम बदलने जा रही है।

Shreedhar Agnihotri

Shreedhar AgnihotriWritten By Shreedhar AgnihotriShwetaPublished By Shweta

Published on 2 Aug 2021 4:37 PM GMT

योगी
X

योगी ( फोटो सौजन्य से सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Yogi government: उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में चल रही भाजपा सरकार फैजाबाद और इलाहाबाद के बाद अब इस प्रदेश के एक और जिले का नाम बदलने जा रही है। दुनिया भर में चूडियों के लिए प्रसिद्व शहर फिरोजाबाद का नाम अब बदला जाएगा। अब इस शहर को फिर से उसके प्राचनी नाम चंद्रनगर से जाना जाएगा। इसके लिए जिला पंचायत बोर्ड की एक बैठक में ध्वनि मत से प्रस्ताव पारित हो गया है। अब इसे शासन को भेजा जाएगा। जहां पर अंतिम मुहर लग जाएगी।

उल्लेखनीय है कि इसके पहले इलाहाबाद का नाम प्रयागराज और फैजाबाद जिले का नाम बदलकर अयोध्या किया जा चुका है। यहां यह बताना भी जरूरी है कि पिछले कई महीनों से फिरोजबाद के नाम को बदलने की मांग उठती आ रही है। बताया जाता है कि मुगल काल के दौरान चंद्रवाड को बदलकर राजा अकबर ने फिरोजाबाद कर दिया था।

यहां पर फिरोजशाह का मकबरा भी है जिसके नाम से इसका नाम बदल दिया गया था। खास बात यह है कि अभी भी रेलवे किनारे के एक इलाके का नाम अभी चंद्रवाड ही है। जिला पंचायत की अध्यक्ष हर्षिता सिंह का कहना है कि इस प्रस्ताव को जब सदन में रखा गया तो किसी ने भी इसका विरोध नहीं किया। उनका कहना है कि अगले हफ्ते इसे डीएम कार्यालय में भेज दिया जाएगा जिसके बाद जिलाप्रशासन इस प्रस्ताव को शासन भेज देगा। फिर सरकार इस पर अपनी मुहर लगाने का काम करेगी।

बताया जाता है कि संघ की शाखाओं में आज भी फिरोजाबाद को चंदनगर ही कहा जाता है। कहा जाता है कि प्राचीन समय में यह राजा चंद्रसेन की नगरी थी। जिसका नाम चंद्रवाड था। लेकिन मुस्लिम शासकों के हमले से यह नगरी तहस नहस हो गयी। यहां अभी भी इस नगरी के पुराने अवशेष जीवित है। अकबर ने अपने सिपहसालार फिरोज शाह को इस नगरी में भेजा था। जिसके बाद इस नगर का नाम फिरोजाबाद कर दिया गया। यहां पर आज भी तमाम जैन मंदिर हैं जिसे अकबर ने जमीदोंज कर दिया। इस नगर को जैन राजा चंद्रसेन ने बसाया था लेकिन बाद में मुस्लिम आबादी बढने के कारण यहां पर चूडी उद्योग पनप गया और इसकी पहचान चूडी नगरी के रूप में होने लगी।

Next Story