×

Firozabad News: हादसा टला, शिकोहाबाद ओवर ब्रिज की सड़क टूटी, एटा चौराहे के निकट गिरा मलबा

Firozabad News: शिकोहाबाद के एटा चौराहे पर बनी सड़क धंसी, बड़ा दुर्घटना टला

over bridge ki sadak tutee
X

सड़क धंसने की वजह से वन वे हुआ ट्रैफिक (फोटो-न्यूजट्रैक)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Firozabad News: फ़िरोज़ाबाद जिले में शिकोहाबाद के एटा चौराहे पर बने ओवर ब्रिज (over bridge ki sadak tutee) में करीब 4-5 फुट एरिया का प्लास्टर पूरी तरह से उखड़कर नीचे गिर गया तथा सरिया नजर आने लगी। एनएचआई द्वारा बनाई गई इस ओवर ब्रिज में टूटे (over bridge ki sadak tutee) हुए हिस्से में बड़े-बड़े पत्थर लगाकर केवल छोटे वाहनों को गुजारा जा रहा है। वहीं बड़े वाहनों को रोक दिया गया है, जिससे कि कोई बड़ा हादसा (road accident) न होने पाए। वहीं लोगों का कहना है कि करीब एक साल से पहले ही यहां की सड़क उखड़ने के साथ साथ पुल का प्लास्टर भी नीचे गिरने लगा है जो कहीं न कहीं भ्रष्टाचार (Corruption) के संकेत देता है।

फिरोजाबाद जनपद के शिकोहाबाद नगर में करीब 3 किलोमीटर लंबा ओवर ब्रिज (over bridge ki sadak tutee) रामलीला मैदान से लेकर बोझिया तक बनाया गया है। जाम की समस्या खत्म करने के लिए बनाए गए ओवर ब्रिज को एनएचआई द्वारा बनाया गया था, लेकिन अब एटा चौराहे के पुल के पास का प्लास्टर नीचे गिर गया। यहां तक कि पुल में सरिया भी दिखाई देने लगी है। इसके साथ ही ब्रिज के नीचे का भी हिस्सा टूटकर गिरने लगा है।


जैसे ही इसकी जानकारी एनएचआई के अधिकारियों को हुई तो तुरंत आनन फानन में ब्रिज की शुरुआत के स्थान पर बड़े-बड़े पत्थर लगाकर बड़े वाहनों को रोक दिया गया। एक हिस्से को बड़े वाहनों के लिए प्रतिबंधित कर सड़क की मरम्मत का कार्य कराया जा रहा है।


प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि इसमें घटिया सामग्री का इस्तेमाल हुआ है, क्योंकि इस पर लगे मेटीरियल को 1 वर्ष भी नहीं हो पाया और टूटकर गिरने लगा। ऐसे में किसी बड़े खतरे की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता। करोड़ों की लागत से बना ओवरब्रिज एक साल भी ठीक से नहीं चल सका। और अब यह बड़े हादसे को निमंत्रण दे रहा है। इसमें खुलेआम सरकारी धन के बन्दर बांट की बू आ रही है। मौके पर पहुंचे NHI के अधिकारियों (NHI ke adhikari) ने एक तरफ सड़क बंद कर वन वे कर दी है। अधिकारी घटिया निर्माण सामग्री के प्रयोग की बात मानने को तैयार नहीं है और जाँच की बात कर रहे हैं।

taja khabar aaj ki uttar pradesh 2021, ताजा खबर आज की उत्तर प्रदेश 2021

Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story