×

Firozabad News : लखनऊ की टीम लेती रही मरीजों का हाल, सात और ने तोड़ा दम, जिले में अब तक 198 की डेंगू से मौत

Firozabad News : फिरोजाबाद में डेंगू वायरल बुखार से 7 की मौत होने के बाद मरने वालों की संख्या 198 पर पहुंच गई है।

Brajesh Rathore

Brajesh RathoreReport Brajesh RathoreShraddhaPublished By Shraddha

Published on 24 Sep 2021 8:10 AM GMT

फिरोजाबाद में तेजी से फैला डेंगू वायरल बुखार
X

फिरोजाबाद में तेजी से फैला डेंगू वायरल बुखार (डिजाईन फोटो- न्यूजट्रैक)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Firozabad News : उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में विगत 1 माह से अधिक समय से लगातार चल रहे डेंगू वायरल बुखार (Dengue Viral Fever) के प्रकोप से मौत होने का सिलसिला अनवरत जारी है। 7 और की मौत होने के बाद मरने वालों की संख्या 198 पर पहुंच गई है। लखनऊ से आई टीम अस्पताल में मरीजों का हालचाल लेती रही तो वहीं, बच्चे बीमारी से दम तोड़ते रहे।

फिरोजाबाद जिले में 18 अगस्त को डेंगू से पहली मौत हुई थी और उसके बाद से लगातार इस महामारी की चपेट में आकर बच्चे युवा और वृद्ध दम तोड़ते आ रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग और प्रशासनिक अधिकारियों के लाख प्रयासों के बावजूद भी मौतों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। गुरुवार रात्रि तक सात और की मौत हो गई। इस तरह मरने वालों की संख्या 198 पहुंच गई है।

इनकी हुई मौत


थाना टूंडला क्षेत्र के भौंड़ेला निवासी डेढ़ वर्षीय प्रज्ञा की मेडिकल कॉलेज में मौत हो गई। मखनपुर के गोविंदपुर निवासी 35 वर्षीय राम रतन पुत्र हरी सिंह की सरकारी ट्रॉमा सेंटर में मौत हुई है। थाना नारखी क्षेत्र के आतीपुर निवासी 14 वर्षीय शहनाज पुत्री साबिर खान और 16 वर्षीय सनाजा पुत्री जुल्फी खान की उनके घर पर ही मौत हो गई। टूंडला के सूर्य नगर निवासी 45 वर्षीय माला देवी पत्नी नेत्रपाल सिंह की प्राइवेट अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई। थाना नगला सिंघी क्षेत्र के गांव ठार हाथी निवासी गीतम सिंह की 7 वर्षीय बेटी लक्ष्मी की प्राइवेट अस्पताल में मौत हो गई। मक्खनपुर के रूपसपुर निवासी 45 वर्षीय इस्लाम टेलर पुत्र फरीद खान की प्राइवेट अस्पताल में बुखार से मौत हो गई। वर्तमान में अभी मेडिकल कॉलेज में 242 बच्चे भर्ती है। लखनऊ से आई मंडल के सर्विलांस अधिकारी डॉ अखिलेश्वर सिंह की टीम ने मेडिकल कॉलेज में जाकर मरीजों का हालचाल भी लिया है।

Shraddha

Shraddha

Next Story