×

Firozabad News: गंबूजा मछलियां करेंगी डेंगू मच्छर का सफाया, जानें कैसे

Firozabad News: फिरोजाबाद में डेंगू तथा वायरल बुखार से मरने वालों की संख्या बढ़कर 52 हो गई है। 540 से अधिक बच्चे मेडिकल कॉलेज में भर्ती हैं।

dengue
X

डेंगू मच्छर की सांकेतिक तस्वीर (फोटो साभार-सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Firozabad News: फिरोजाबाद में डेंगू तथा वायरल बुखार से मरने वालों की संख्या बढ़कर 52 हो गई है। 540 से अधिक बच्चे मेडिकल कॉलेज में भर्ती हैं। जिला प्रशासन व नगर निगम इस महामारी को रोकने के हर तरह के उपाय कर रहा है। फिलहाल बुखार और बढ़ते रोगियो की संख्या पर काबू नही पाया जा सका है। अब जिला प्रशासन ने डेंगू का लारवा मारने के लिए एक अनूठा प्रयोग किया है।

डेंगू मच्छर का लार्वा दिखाते हुए pic(social media)

भारत सरकार के स्वस्थ्य मंत्रालय की टीम और उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग लखनऊ के टीम को भी डेंगू के मच्छर के लारवा मीले हैं। आणिकतर मरीज डेंगू से संक्रमित मिले है। ये डेंगू के मच्छर का लारवा पुराना जमा हुआ पानी, जल भराव, तलाव में अधिक पायव गए है। शहर के अधिकांश स्थानों पर एंटीलारवा का छिड़काव तो हो रहा है फिर भी बीमारो की संख्या बढ़ती जा रही है। अब मारने वाला का आंकड़ा भी 52 हो गया है। अब देहात में भी डेंगू के मरीज मिल रहे है। लार्वा को मारने के लिए अब मछली का सहारा लिया जा रहा है।

बदायू से 50 पैकेट में आई 25 हजार मछलियों को शनिवार को अराव, सिरसागंज, के कई तालाबो में इन् मछलियों को छोड़ा गया है। तीन दिन बाद फिर देखा जैव की क्या लारवा कम हुआ है। यदि ये प्रयोग सफल रहा तो शहर में पुराने जल भराव में इन गैम्बोजा मछलियो को छोड़ा जाएगाडॉक्टर दिनेश कुमार प्रेमी, फ़िरोज़ाबाद ने बताया कि उन्होंने 25 हजार की संख्या में मछलियों को बदायू से मंगाया है। यह एक प्रति विशेष प्रजाति की गैम्बोजा मछली है।

मछली के बारे में जानकारी देते हुए pic(social media)

इसकी विशेषता है कि यह डेंगू का लारवा खाती है। कई जगह पर यह प्रयोग सफल रहा है। शहरी इलाकों से सटे आसपास के तालाबों में फिलहाल इसको डाला जा रहा है। जहां पर लारवा मिला है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर दिनेश कुमार प्रेमी कहते हैं कि अभी फिलहाल शहर से सटे हुए तालाबों में डाला जा रहा है। वहीं जल्दी ही शहरों में जहां-जहां जलभराव है और डेंगू का लारवा जिस जगह भी मिलेगा वहां इन मछलियों को छोड़ा जायगा।

वहीं आनंद कुमार जादौन, ग्राम पंचायत सदस्य, सिरसागंज, फ़िरोज़ाबाद का कहना है कि उन्हें जिला प्रशासन से मछलियां मिली हैं। यह एक विशेष प्रजाति की गैम्बोजा मछली हैं फिलहाल बदायूं से मंगाई गई है इनको अभी अराव, सिरसागंज के आसपास के तालाबों में मैंने खुद डलवाया है।

जगह जगह इकट्ठा हुआ लारवा, लखनऊ से आई स्वास्थ्य विभाग की टीम लारवा चेक करते हुए, मछलियों के शॉट, मछलियां तालाब में फेंकते हुए, ग्राम पंचायत सदस्य की बाइट, मुख्य चिकित्सा अधिकारी की बाइट।

Pallavi Srivastava

Pallavi Srivastava

Next Story