×

Firozabad : खाद्य विभाग ने ट्रांसपोर्ट कंपनी पर छापा मारा, सिंथेटिक दूध में कैमिकल मिला रहे ट्रांसपोर्ट के खजांची मालिक

Firozabad : एटा रोड पर ट्रांसपोर्ट की आड़ में सिंथेटिक दूध बनाने का केमिकल बेचा जा रहा था। खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने ट्रांसपोर्ट पर छापा मारा।

Brajesh Rathore

Brajesh RathoreReport Brajesh RathoreVidushi MishraPublished By Vidushi Mishra

Published on 24 Sep 2021 2:24 PM GMT

synthetic milk
X

सिंथेटिक दूध (फोटो- सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Firozabad : फिरोजाबाद के शिकोहाबाद में ट्रांसपोर्ट कंपनी में अचानक खाद्य विभाग के अधिकारियों ने छापा मारा। यहां के एटा रोड पर ट्रांसपोर्ट की आड़ में सिंथेटिक दूध बनाने का केमिकल बेचा जा रहा था। खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने ट्रांसपोर्ट पर छापा मारा। इस दौरान यहां से भारी मात्रा में ग्लोकोज, केमिकल लीटरों में बरामद कर लिया। खाद्य विभाग ने वहां से बरामद सामान के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा है।

दरअसल खाद्य सुरक्षा अधिकारी बी एस कुशवाह को सूचना मिली थी, रोटी बैंक के पास एक ट्रांसपोर्ट कंपनी में सिंथेटिक दूध के बनाने में काम आने वाला ग्लूकोज, सोरविटाल, साबुन केमिकल बेचा जा रहा है। कुछ व्यापारी ट्रांसपोर्ट पर आकर सिंथेटिक दूध का केमिकल खरीद कर ले जा रहे हैं। जिससे इस क्षेत्र में बड़े पैमाने पर सिंथेटिक दूध बनाया जा रहा है।

ट्रांसपोर्ट के मालिक खजांची लाल

सूचना मिलते ही खाद्य सुरक्षा अधिकारी संतोष कुमार, अरुण मिश्रा, बीएस कुशवाह ने पुलिस के साथ छापा मारा। खाद्य सुरक्षा अधिकारियों की छापेमारी से क्षेत्र में अफरा तफरी मच गई। दुकान पर सिंथेटिक दूध का सामान खरीदने आया एक घिरोर का युवक अपनी बाइक को वही पर खड़ा छोड़कर भाग गया।


मौके पर ट्रांसपोर्ट के मैनेजर निर्मल कुमार जैन मिले। खाद्य विभाग की छापेमार कार्यवाही के दौरान मौके से 8 बोरी ग्लूकोज के पैकिट, 3 ड्रम सोरविटाल, 2 बोतल रिंची बरामद हुआ है। खाद्य विभाग ने सभी सामान के सैम्पल भरकर जांच के लिए भेज दिए हैं।

इस बारे में बी एस कुशवाह ने बताया कि ट्रांसपोर्ट के मालिक खजांची लाल है। वह ट्रांसपोर्ट की आड़ में सिंथेटिक दूध बनाने का सामान बेच रहा था। सिंथेटिक दूध को बनाने वाले यहां से ग्लूकोज, सोरविटाल, रिंची खरीदकर उससे दूध बनाते हैं। रिंची एक साबुन का केमिकल है जिससे दूध में झाग पैदा किया जाता है। साथ ही गाड़ापन लाया जाता है।

तीनों केमिकल का प्रयोग कर दूध बनाया जाता है। सभी सामान खुले रूप में मिले हैं। अगर केमिकल पैक होते तो समझा जाता कि किसी ने मंगाया होगा। ट्रांसपोर्ट से 3 ड्रम सोरविटाल, 2 बोतल रिंची, 25 केजी की 8 पैकिट ग्लूकोज के मिले हैं। सभी के सेम्पल लेकर जांच के लिए भेजे जा रहे हैं। ट्रांसपोर्टर के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story