×

Firozabad News: किसानों का जमकर बवाल, खाद की खरीद पर जैविक खाद दिए जाने से भड़के

Firozabad News: मामला कृभको बाजार का है, जहाँ मंगलवार की दोपहर में किसान केंद्र से खाद खरीदने आए। किसानों का आरोप है खाद की तीन बोरी के साथ एक बोरी जैविक खाद लेना अनिवार्य कर दिया गया है।

Brajesh Rathore

Brajesh RathoreReport Brajesh RathoreDivyanshu RaoPublished By Divyanshu Rao

Published on 19 Oct 2021 2:17 PM GMT

Firozabad News
X

सरकारी खाद केंद्र पर हंगामा करते किसान

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Firozabad News: शिकोहाबाद बटेश्वर रोड पर सरकारी खाद गोदाम पर किसानों ने जमकर हंगामा काटा (sarkari khad godam mein hungama) । किसानों ने केंद्र के व्यव्यस्थापक के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। आरोप लगाया कि जनपद में खाद की कोई कमी नही होने के बावजूद केन्द्र व्यवस्थापक किसानों को परेशान कर रहे हैं।

मामला कृभको बाजार का है, जहाँ मंगलवार की दोपहर में किसान केंद्र से खाद खरीदने आए। किसानों का आरोप है खाद की तीन बोरी के साथ एक बोरी जैविक खाद लेना अनिवार्य कर दिया गया है। किसानों ने जमकर हंगामा (Kisanon Ka Hungama) काटा। किसानों का कहना था कि किसान जैसी खाद मांगे उसे उसी प्रकार की खाद देनी चाहिए, लेकिन केंद्र संचालक किसानों को जबरन जैविक खाद की बोरी दे रहे हैं। जबकि किसानों को जैविक खाद की कोई जरूरत नही है। उसे डीएपी, यूरिया की जरूरत है जिसे आलू की फसल में डालना जरूरी है। ऐसे में जैविक खाद की बोरी क्यों खरीदे।

सरकारी खाद खरीद केंद्र

केंद्र सेल्स प्रभारी दुर्गेश कुमार का कहना है कि केंद्र के निर्देश पर वह किसानों को मांग के अनुसार आपूर्ति कर रहे हैं। लेकिन हम किसानों को समझा रहे हैं कि जैविक खाद का अधिक प्रयोग करें। यह खेती के लिए अच्छी है। इससे पैदावार बढ़ती है। जिनकी समझ मे आता है वह लेके जा रहे हैं। हम किसी को भी जबरन जैविक खाद नही दे रहे हैं। सरकार भी कह रही है कि फसलों में खाद का प्रयोग कम किया जाए, जैविक खाद का उपयोग अधिक किया जाए, जिससे खेत की उर्वरा शक्ति बनी रहे। खाद का कोई संकट नही है। जिस किसान को जितनी खाद चाहिए वह दी जाएगी। वह किसानों की इच्छा पर निर्भर है।

सरकारी खरीद केंद्र पर किसानों की भीड़

जनपद में हाल में ही 42 रैक आई है। जिसमें से 6 रैक को प्राइवेट दुकानों के लिए आवंटित किया गया है जबकि शेष रैक को सरकारी समितियों को आवंटित किया गया है। जनपद में आलू की बुवाई शुरू हो गई है। जिसके चलते मांग भी बढ़ी है। ऐसे में प्रशासन ने खाद का व्यापक इंतजाम किया है। जिससे किसानों को फसलों के लिए कोई कमी न रहे। उसके बाद भी संचालकों की मनमानी के कारण किसानों को दिक्कत हो रही है।

taja khabar aaj ki uttar pradesh 2021, ताजा खबर आज की उत्तर प्रदेश 2021, firozabad news,firozabad news today, firozabad news today in hindi, today news in hindi up firozabad,firozabad latest news,firozabad latest news in hindi,faridabad latest news in hindi

Divyanshu Rao

Divyanshu Rao

Next Story