×

UP Election 2022: हाथरस में BJP को SP-RLD गठबंधन से चुनौती, बसपा का भी पलड़ा भारी, जानिए तीनों सीटों का इतिहास!

UP Election 2022: हाथरस जिले का गठन 3 मई 1997 को अलीगढ़, मथुरा और आगरा जिले के हिस्सों को मिलाकर किया गया था।

Rahul Singh Rajpoot
Updated on: 17 Feb 2022 8:44 AM GMT
UP Election 2022
X

यूपी चुनाव 2022। 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

UP Election 2022: ब्रज क्षेत्र में आने वाला हाथरस (Hathras) में इस बार का चुनाव काफी अहम है, क्योंकि हाथरस कांड की गूंज पूरे देश में सुनाई दी थी। इस मामले को लेकर विपक्षी दल जहां बीजेपी (BJP) को घेरने में लगे रहते हैं वहीं बीजेपी अपराध और गुंडाराज खत्म करने के दावे के साथ मैदान फहत करने में लगी हुई है। हाथरस जिले का गठन 3 मई 1997 को अलीगढ़ (Aligarh), मथुरा (Mathura) और आगरा (Agra) जिले के हिस्सों को मिलाकर किया गया था। हाथरस गुलाल, हींग और गारमेंट्स के लिए मशहूर है। यहां 20 फरवरी को मतदान होना होगा, जनपद में हाथरस सुरक्षित-78 विधानसभा, सादाबाद-79 विधानसभा, सिकंदराराऊ विधानसभा सीटें हैं। 2017 के चुनाव में दो पर भाजपा ने जीत दर्ज की थी जबकि एक सीट बसपा के खाते में गई थी। तीन विधानसभा में एक सीट सुरक्षित भी है।

हाथरस सुरक्षित-78 विधानसभा क्षेत्र (78 Assembly Constituency)

कुल मतदाताओं की संख्या- 415310

दलित 75000

ब्राह्मण 47000

ठाकुर 35000

वैश्य 42000

मुसलमान 25000

कुशवाहा 22000

बघेल 15000

जाट 16000 हैं

हाथरस सीट ( BJP Hathras Seat) से भाजपा ने आगरा की पूर्व मेयर अंजुला माहौर (Anjula Mahour) को मैदान में उतारा है। जिनकी टक्कर सपा ( SP) प्रत्याशी ब्रज मोहन राही (Braj Mohan Rahi) से मानी जा रही है। 2017 में हुए चुनाव में भाजपा के प्रत्याशी हरी शंकर माहौर ने इस सीट से बाजी मारी थी।

सादाबाद-79 विधानसभा, कुल मतदाता-376799

सादाबाद सीट (Sadabad seat) हाथरस जनपद की तीनों विधानसभा सीटों में सबसे हॉट सीट मानी जा रही हैं। इससे मिनी जाट लैंड भी कहा जाता है। यहां से गठबंधन की ओर से आरएलडी (RLD ) ने अपने प्रत्याशी गुड्डू चौधरी (Guddu Choudhary) को मैदान में उतारा है। जिनकी टक्कर पूर्व ऊर्जा मंत्री और हाल ही में भाजपा में शामिल हुए रामवीर उपाध्याय (Ramveer Upadhyay) से मानी जा रही है। रामवीर 2017 में इस सीट से विधायक चुने गए थे। तब वह बसपा के प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़े थे।

सादाबाद-79 विधानसभा सीट पर जातिगत आंकड़े

जाट 90000

ब्राह्मण 48000

एससी 55000

मुसलमान 25000

ठाकुर 22000

बघेल 20000

यादव 15000

वैश्य 15000

सिकंदराराऊ विधानसभा सीट पर जातिगत आंकड़े

ठाकुर 85000

यादव 40000

बघेल 40000

मुसलमान 35000

दलित 60000

ब्राह्मण 22000

कुशवाहा 12000

लोधी 12000

कुमार 10000

Monika

Monika

Next Story