×

प्रदर्शनकारी शिक्षकों पर बीएसए का चला चाबुक, टीचरों की सैलरी रोकने का आदेश

उत्तर प्रदेश के अमेठी में पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर प्रदर्शन के बाद काम पर लौटे शिक्षिकों पर शिक्षा अधिकारियों का चाबुक चल गया है। बीते 3 दिनों तक लगातार शिक्षकों व कर्मचारियों द्वारा की गई हड़ताल को लेकर बीएसए अमेठी ने गंभीरता से लेते हुए जिले के हड़ताली शिक्षकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 11 Feb 2019 11:47 AM GMT

प्रदर्शनकारी शिक्षकों पर बीएसए का चला चाबुक, टीचरों की सैलरी रोकने का आदेश
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

अमेठी: उत्तर प्रदेश के अमेठी में पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर प्रदर्शन के बाद काम पर लौटे शिक्षिकों पर शिक्षा अधिकारियों का चाबुक चल गया है। बीते 3 दिनों तक लगातार शिक्षकों व कर्मचारियों द्वारा की गई हड़ताल को लेकर बीएसए अमेठी ने गंभीरता से लेते हुए जिले के हड़ताली शिक्षकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है। बीएसए ने 380 शिक्षकों के वेतन रोकने का आदेश दिया है। बीएसए के इस आदेश के बाद शिक्षा महकमे में हड़कंप मच गया है।

यह भी पढ़ें.....MBBS के आठ स्टूडेंट नकल करते पकड़े गए, इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस के जरिये कर रहे थे नकल

बीएसए अमेठी विनोद कुमार मिश्रा ने बताया कि हड़ताल में शामिल 380 शिक्षकों का वेतन अग्रिम आदेश तक रोक दिया गया है। उन्होंने यह भी कहा कि सभी शिक्षकों से स्पष्टीकरण मांगा गया है। स्पष्टीकरण न देने वाले शिक्षकों के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई भी की जाएगी। इससे हड़ताली शिक्षक परेशान हो गए हैं।

यह भी पढ़ें.....सीपीएम विधायक ने महिला आईएएस अधिकारी को कहे अपशब्द, पार्टी मांगेगी जवाब

बता दें कि प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों के प्रधानाध्यपकों के प्रदर्शन के दौरान स्कूलों में दो दिन एमडीएम नहीं बना था, इस पर भी जवाब तलब किया गया है। सनद रहे कि पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर प्रदेश भर में बड़े पैमाने पर तीन दिनों तक शिक्षिक कार्य से विरत थे।

यह भी पढ़ें.....देखें राहुल-प्रियंका के रोड़ शो की चुनिंदा तस्वीरें

गौरतलब है कि माननीय उच्च न्यायालय ने इन कर्मचारियों की हड़ताल को गलत करार देते हुए हड़ताल को तुरंत समाप्त किये जाने को कहा था जिसका संज्ञान लेते हुए शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष ने हड़ताल समाप्त करने की घोषणा कर दिया था।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story