×

मायावती बोलीं-बसपा सरकार करेगी सपा शासन के आर्थिक मामलों और नियुक्तियों की जांच

मायावती ने कहा कि उनकी अगली सरकार में सपा शासन के दौरान हुई नियुक्तियों और आर्थिक फैसलों की जांच कराएगी। मायावती ने कहा कि महत्वपूर्ण इलाकों में जमीनों के लेनदेन की शिकायतों की भी जांच होगी और दोषियों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

zafar

zafarBy zafar

Published on 1 Dec 2016 12:03 PM GMT

मायावती बोलीं-बसपा सरकार करेगी सपा शासन के आर्थिक मामलों और नियुक्तियों की जांच
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव नियम-कानूनों को ताक पर रखकर सरकार चलाते रहे हैं। मायावती ने कहा कि उनकी अगली सरकार में सपा शासन के दौरान हुई नियुक्तियों और आर्थिक फैसलों की जांच कराएगी। मायावती ने कहा कि महत्वपूर्ण इलाकों में जमीनों के लेनदेन की शिकायतों की भी जांच होगी और दोषियों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

बचकाना उतावलापन

-बसपा सुप्रीमो ने सपा सरकार पर विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र आधी-अधूरी योजनाओं का उद्घाटन करने का आरोप लगाया।

-मायावती ने कहा कि इसी मानसिकता के तहत मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लखनऊ मेट्रो रेल का ट्रायल रन भी खुद ही शुरु करने की अपनी बचकानी ज़िद को पूरा कर लिया।

-पूर्व सीएम मायावती ने गुरूवार को जारी एक बयान में कहा कि परंपरा निभाते हुए वह थोड़े दिन और इंतज़ार कर लेते और 26 मार्च 2017 को जब मेट्रो रेल का औपचारिक संचालन शुरु होता तब इसका उद्घाटन करते।

-लेकिन लगता है सरकार के मुखिया को पूरा विश्वास हो चुका है कि वह अब सत्ता में वापस लौटने वाले नहीं हैं। इसलिये सरकार बचकानी आपाधापी और उतावलापन दिखा रही है।

बसपा की योजना है मेट्रो

-लखनऊ से पहले नोएडा व गाजियाबाद में भी मेट्रो रेल का संचालन शुरू किया गया, लेकिन तब परंपरानुसार शालीनता निभाई गई।

-उन्होंने कहा कि मेट्रो बीएसपी सरकार द्वारा वर्ष 2008 में शुरू की गई थी। फरवरी 2008 में डीएमआरसी और एलडीए के बीच में अनुबन्ध हुआ था।

-इसका सरकारी गजट टेक्नीकल सर्वे जुलाई 2008 में हुआ था।

-मायावती ने कहा कि अक्टूबर 2008 में एलडीए द्वारा इस परियोजना की कार्ययोजना को स्वीकृति दी गई।

-इसके बाद जुलाई 2011 में इसकी डीपीआर केन्द्र सरकार को भेज दी गई थी और लखनऊ मेट्रो के बुनियादी काम बीएसपी सरकार में ही पूरे कर लिये गए थे।

-बसपा प्रमुख ने कहा कि लखनऊ मेट्रो का काम पूरा करने में सपा सरकार ने पूरे साढ़े चार वर्षों का लम्बा समय लगा दिया, जबकि इसके औपचारिक उद्घाटन में अब भी काफी वक्त बाकी है।

zafar

zafar

Next Story