Top

मायावती ने आरिफ को निकाला, फंड मैनेज के लिए रचा था अपहरण का नाटक

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 18 July 2016 4:51 AM GMT

मायावती ने आरिफ को निकाला, फंड मैनेज के लिए रचा था अपहरण का नाटक
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: मुजफ्फरनगर के बुढ़ाना से बसपा प्रत्याशी मोहम्मद आरिफ के अपहरण का खुलासा हो गया है। शनिवार को एक नाटकीय घटनाक्रम में आरिफ खुद दिल्ली स्थित अपने भाई के घर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। पुलिसिया पूछताछ में खुलासा हुआ है कि आरिफ ने आर्थिक कारणों के चलते स्वयं अपने अपहरण का नाटक किया था। फिलहाल बसपा सुप्रीमो ने उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया है।

यह भी पढ़ें... मायावती ने कहा गुजरात में होता है दलितों पर अत्याचार, सदन में हंगामा

बसपा प्रत्याशी के करीबियों की मानें तो उन पर एक विशेष तरह का फंड मैनेज करने का दबाव था। इसके दबाव में उन्होंने अपहरण का झूठा नाटक रचा। पर अब उनके हाथ से विधायकी का टिकट और बसपा की सदस्यता दोनों चली गईं।

पुलिसिया पूछताछ में खुलासा, आर्थिक कारणों से बनाई कहानी

एसएसपी मेरठ जे रविन्द्र गौड़ का कहना है कि पुलिस ने जब चारो तरफ दबाव बनाना शुरू किया तो आरिफ खुद अपने भाई के घर से दिल्ली पहुंचा। अब पुलिस जांच में इन पर केस दर्ज कराएगी। पूछताछ में उसने आर्थिक कारणों के चलते अपहरण का नाटक किया था।

इसके अलावा आरिफ की अपहरण के आरोप में जिन्होंने जानबूझकर दबाव बनाकर कुछ लोगों के खिलाफ नामजद केस दर्ज कराया था। उनके खिलाफ भी एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।

-कथित तौर पर 12 जुलाई को जौला निवासी बसपा प्रत्याशी आरिफ का अपहरण हो गया था।

-उनकी स्कॉर्पियो गाड़ी कंकरखेड़ा के डाबका गांव के पास खड़ी मिली थी।

-कार से एक मोबाइल व चाबी बरामद हुई थी।

-पुलिस की 10 से ज्यादा टीमें उनकी तलाश में लगी थीं।

Newstrack

Newstrack

Next Story