Top

ऊना मामले में बोलीं माया- मुझे ऐसा लगा जैसे मेरी कमर पर किसी ने मारा

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 4 Aug 2016 8:28 AM GMT

ऊना मामले में बोलीं माया- मुझे ऐसा लगा जैसे मेरी कमर पर किसी ने मारा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: बसपा सुप्रीमो मायावती गुरुवार को अहमदाबाद पहुंचीं। मायावती ने केंद्र और गुजरात सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंन ऊना कांड के बहाने सरकार को घेरा और इसे दलितों के उत्पीड़न का चरम बताया। मायावती का ऊना जाने का कार्यक्रम था, लेकिन रास्ते में उन्होंने अहमदाबाद में लोगों को संबोधित किया। इस दौरान मायावती ने लोगों से राजनीतिक सत्ता की चाबी अपने हाथ में लेने की अपील की। मायावती ने कहा कि ऊना मामले में जब दलितों की पिटाई का वीडियो मैं देख रही थी तो ऐसा लगा कि कोई मेरी कमर पर मार रहा है।

मायावती का कहना है कि वे काफी पहले गुजरात के गिर सोमनाथ जिले के ऊना जाकर दलितों के पीड़ित परिवार वालों से मिलकर उनसे सहानुभूति प्रकट करना चाहती थी, लेकिन बीजेपी उन्हें वहां नहीं जाने देने के लिए कई प्रकार के षड़यंत्र करती रही।

यह भी पढ़ें... दलितों की पिटाई का हिंसक विरोध, भीड़ ने गुजरात में बसों को फूंका

-मायावती ने कहा कि गौ रक्षा के नाम पर दलितों का उत्पीड़न और शोषण किया जा रहा है। इसके प्रति अपना गुस्सा ज़ाहिर करने के लिए हम यहां आए हैं।

-माया ने कहा कि मैं यहां कोई जनसभा करने नही आई हूं, जब मुझे पता चला कि 11 जुलाई को गौ रक्षा के नाम पर कुछ दलितों का बड़े पैमाने पर उत्पीड़न हुआ।

-उनके हाथ बांधकर उन्हें पीटा गया, उनके कमर के ज़ख्म साफ दिखाई दे रहे थे।

-जब कुछ चैनल ने सीधा ये सब दिखाया कि किस तरह उनकी कमर पर मारा जा रहा था। उस समय मुझे लग रहा था कि मेरी कमर पर कोई मार रहा है।

-मैने प्रेस नोट जारी कर जांच की मांग की थी।

-मैंने 18 तारीख को संसद को नहीं चलने दिया और मुद्दा उठाया था।

Newstrack

Newstrack

Next Story