×

यूपी विधानसभा: 7 फरवरी को पेश होगा बजट, 5 से 22 फरवरी तक सत्र

यूपी विधानसभा का बजट सत्र आगामी 5 फरवरी से शुरू होगा और  22 फरवरी तक चलेगा। राज्यपाल रामनाईक दोनों सदनों को संयुक्त रूप से संबोधित करेंगे। लोकसभा चुनाव नजदीक है। इसकी वजह से ये सत्र अहम माना जा रहा है। सात फरवरी को प्रदेश का अब तक सबसे बड़ा बजट पेश होने की उम्मीद है। 

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 31 Jan 2019 3:50 PM GMT

यूपी विधानसभा: 7 फरवरी को पेश होगा बजट, 5 से 22 फरवरी तक सत्र
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ : यूपी विधानसभा का बजट सत्र आगामी 5 फरवरी से शुरू होगा और 22 फरवरी तक चलेगा। राज्यपाल रामनाईक दोनों सदनों को संयुक्त रूप से संबोधित करेंगे। लोकसभा चुनाव नजदीक है। इसकी वजह से ये सत्र अहम माना जा रहा है। सात फरवरी को प्रदेश का अब तक सबसे बड़ा बजट पेश होने की उम्मीद है।

ये भी देखें : लखनऊ : यूपी की योगी सरकार पर कांग्रेस का करारा हमला

ये है प्रस्तावित कार्यक्रम

पांच फरवरी को राज्य विधानमंडल के दोनों सदनों को राज्यपाल रामनाईक संबोधित करेंगे।

6 फरवरी को राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा होेगी।

7 फरवरी को बजट पेश होगा और गवर्नर के अभिभाषण पर चर्चा होगी।

8 फरवरी को राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा और आधा दिन असरकारी दिवस होगा।

ये भी देखें : बजट : संसद भवन में सुबह 10 बजे होगी मोदी मंत्रिमंडल की बैठक

9 और 10 फरवरी को बैठक नहीं होगी।

11 फरवरी को गवर्नर के अभिभाषण और बजट पर चर्चा।

12, 13 और 14 फरवरी को बजट पर चर्चा।

15 फरवरी को बजट पर चर्चा और आधा दिन असरकारी दिवस।

16 और 17 फरवरी को बैठक नहीं होगी।

18, 19, 20 और 21 फरवरी को बजट पर चर्चा।

22 फरवरी को बजट पर चर्चा और मतदान।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story