Top

गैंगरेप : पंचायत ने कहा- घर में सो रहा था रईस, पुलिस ने फंसाया

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 1 Aug 2016 2:11 PM GMT

गैंगरेप : पंचायत ने कहा- घर में सो रहा था रईस, पुलिस ने फंसाया
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बुलंदशहर: हाईवे पर हैवानियत मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार करके जेल भेजा है। इनमें से एक रईस के परिजनों ने उसकी गिरफ्तारी का विरोध करते हुआ कहा है कि निर्दोष को जेल नहीं भेजने दिया जाएगा। इस मामले में गांव में एक पंचायत भी हुई और सीएम अखिलेश यादव से शिकायत समेत कई फैसले लिए गए।

इनकी हुई है गिरफ्तारी

-सोमवार को पुलिस ने तीन आरोपियों को फास्ट ट्रैक कोर्ट में पेश किया है।

-जेल भेजे गए आरोपियों में बुलंदशहर का रईस, हापुड़ का शाहबेज और नोएडा का जबर सिंह शामिल है।

-रईस बुलंदशहर के सूतारी गांव का रहने वाला है।

bulandshahr-gangrape

पंचायत का फैसला

-सोमवार को कोतवाली देहात क्षेत्र के गांव सूतारी में एक पंचायत का आयोजन किया गया।

-प्रधान रहीसुददीन ने बताया कि रईस मजूदरी करता है। पिछले दिनों एक ढाबे पर लूट हो गई थी।

-उसमें रईस का नाम आया था, लेकिन छानबीन के बाद छोड़ दिया गया था।

-जरूरत पड़ने पर पुलिस ने रईस को हाजिर होने की बात कही थी। लेकिन 29-30 की रात को पुलिस घर आई और रईस को उठाकर ले गई।

-रईस को गलत फंसाया गया तो कलेक्ट्रेट और एसएसपी ऑफिस का घेराव किया जाएगा।

क्या कहते हैं परिजन

-रईस अपने घर का अकेला कमाने वाला है। रईस के परिजनों में एक बुजुर्ग पिता, मां और मद्धबुधि बहन है।

-रईस की पत्नी ने बताया कि पुलिस रईस को इस केस में जबरदस्ती फंसा रही है। रईस घर पर सो रहा था।

Newstrack

Newstrack

Next Story