Top

बुलंदशहर में पकड़ा गया पाकिस्तानी हथियारों का जखीरा, कई गिरफ्तार

छापेमारी में पुलिस ने ऊंचा तरीनान निवासी कथित पत्रकार रिजवान अंसारी के घर से 2 विदेशी पिस्टल, 2 रायफल, 200 कारतूस और 1 दूरबीन बरामद की है। इससे पहले दिल्ली पुलिस ने निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन पर 2 तस्करों कुर्बान और रेहान को अरेस्ट करके उनके पास से 70 लाख के पाकिस्तान मेड हथियार और 17 मोबाइल फोन बरामद किए थे।

zafar

zafarBy zafar

Published on 19 Aug 2016 8:38 AM GMT

बुलंदशहर में पकड़ा गया पाकिस्तानी हथियारों का जखीरा, कई गिरफ्तार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बुलंदशहर: दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने खुर्जा पुलिस के सहयोग से गुरुवार तड़के तरीनान मोहल्ले में छापा मार कर पाकिस्तान मेड हथियारों के साथ कथित पत्रकार रिजवान अंसारी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने 2 अन्य लोगों को भी हिरासत में लिया है। इससे पहले दिल्ली पुलिस ने निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन पर हथियारों के 2 तस्करों को गिरफ्तार किया था। पुलिस हथियारों के विदेशी लिंक की छानबीन में जुट गई है।

-दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने स्थानीय पुलिस के सहयोग से 17-18 अगस्त की रात करीब 3 बजे मोहल्ला ऊंचा तरीनान में छापा मारा।

-छापेमारी में पुलिस ने ऊंचा तरीनान निवासी कथित पत्रकार रिजवान अंसारी के घर से 2 विदेशी पिस्टल, 2 रायफल, 200 कारतूस और 1 दूरबीन बरामद की है।

-मोहल्ले में लगभग आधा दर्जन घरों में छापेमारी के बाद पुलिस ने 2 अन्य आरोपियों को भी हिरासत में लिया है।

दिल्ली से पकड़े गए थे तस्कर

-इससे पहले दिल्ली पुलिस ने निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन पर 2 तस्करों कुर्बान और रेहान को अरेस्ट करके उनके पास से 70 लाख के पाकिस्तान मेड हथियार और 17 मोबाइल फोन बरामद किेए थे।

-सूत्रों के अनुसार पुलिस ने इन दोनों के पास से 15 विदेशी पिस्टल, एक सफारी कार और एक जिप्सी कार जब्त की थी।

-पकडे गये दोनों तस्कर बुलंदशहर के खुर्जा के रहने वाले हैं। इनसे पूछताछ के बाद पुलिस ने खुर्जा में छापेमारी की है।

police raid-pakistan made weapons

पहले भी मुले हैं हथियारों के जखीरे

-बुलंदशहर में विदेशी हथियार बरामद होने का यह कोई पहला मामला नहीं है। यहां के कई गैंग हथियारों की तस्करी में लगे हुए हैं।

-छह साल पहले भी पुलिस ने एक गैंग के पास से कार्बाइन और छह विदेशी पिस्टल बरामद की थीं।

-वर्ष 2011 में मुजफ्फरनगर के तीन बदमाश पकड़े गए थे, जिनके पास से 13 पिस्टल बरामद हुई थीं।

-जानकारों की मानें तो बिहार के मुंगेर और नेपाल से 20 से 25 हजार रुपये में विदेशी पिस्टल मिल जाती है, जो यहां कई गुना दामों में बिकती है। बुलंदशहर के कई लोग हथियारों की तस्करी के कामों में लगे हुए हैं।

जिले में ही हैं तमंचा फैक्ट्री

-जिले में ही कई स्थानों पर तमंचा बनाने की फैक्ट्री भी पकड़ी जा चुकी हैं।

-जिले के शिकारपुर, सलेमपुर, जहांगीराबाद, नरसेना, अनूपशहर आदि क्षेत्र अवैध हथियार बनाए जाने के लिए बदनाम हैं।

पाकिस्तान सीमा पर खरीदारी

-सीओ खुर्जा विजय प्रकाश का कहना है कि पाकिस्तान बॉर्डर से अवैध हथियारों की खरीद का मामला सामने आने के बाद पुलिस सतर्क हो गई है।

-पुलिस का कहना है कि बॉर्डर पर यह पिस्टल 50-60 हजार रुपए में मिल जाती है, जो 8-10 लाख रुपए तक में बिक जाती हैं।

-पकड़े गए आरोपियों का पाकिस्तान से कोई संबंध है या नहीं, इसकी बारीकी से पड़ताल हो रही है।

-पुलिस अब तक बेची गई पिस्टलों की जानकारी जुटाने के साथ आरोपियों के फोन नंबरों की गहनता से जांच कर रही है।

-एसपी अनीस अहमद अंसारी ने बताया कि इस मामले में दिल्ली क्राइम ब्रांच के अलावा जिला पुलिस भी अपने स्तर से जांच कर रही है।

-जांच-पड़ताल के लिए एक स्पेशल टीम का गठन किया जा रहा है, ताकि किसी स्तर पर चूक की गुंजाइश न रहे।

zafar

zafar

Next Story