Top

सर्राफा व्यापारी की पत्नी ने लगाई फांसी, आर्थिक तंगी बनी परिवार की आफत

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 2 April 2016 10:28 AM GMT

सर्राफा व्यापारी की पत्नी ने लगाई फांसी, आर्थिक तंगी बनी परिवार की आफत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर-आर्थिक तंगी से परेशान सर्राफा व्यापारी की पत्नी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। बता दें कि एक महीने से सभी सर्राफा व्यापारी एक प्रतिशत एक्साइज ड्यूटी बढ़ाये जाने का विरोध कर रहे हैं, जिसकी वजह से सभी व्यापारी एकजुट होकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं। इस हड़ताल के चलते कई परिवार आर्थिक तंगी से गुजर रहे हैं।

क्या है मामला?

-घटना कानपुर के काकादेव क्षेत्र के शास्त्री नगर इलाके की है।

-अजय वर्मा की सर्राफा की दुकान एक महीने से बंद चल रही है।

-जिसकी वजह से उनके परिवार को आर्थिक तंगी से गुजरना पड़ रहा है।

-अजय की पत्नी स्नेहलता इस बात से बहुत परेशान रहती थी।

आर्थिक तंगी से थे परेशान

-अजय ने बताया कि घर की स्थिति ठीक नही होने के कारण पत्नी से एक हफ्ते से विवाद चल रहा था।

-शनिवार सुबह भी विवाद हुआ था, लेकिन यह नही पता था कि वह फांसी लगा लेगी।

-अजय ने बताया कि वह शनिवार को पैसों के इंतजाम के लिए घर से निकला था।

-जब वह घर वापस लौटा तो देखा कि उसकी पत्नी का शव बाथरूम में फंदे से लटक रहा था।

क्या कहती है पुलिस

-सीओ स्वरुप नगर आतिश सिंह के मुताबिक महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

-पोस्टमार्टम रिपोर्ट्स आने के बाद आगे की कार्यवाई की जाएगी।

-मृतका के मायके पक्ष ने कोई तहरीर नही दी है।

दुकान खोलने को लेकर भिड़े थे सर्राफा व्यापारी

-गुरुवार को कुछ सर्राफा व्यापारियों ने अपनी दुकाने खोली थी, क्योंकि उनके परिवार की भी स्थिति बिगड़ रही थी।

-लेकिन इसी बीच सर्राफा व्यापारियों के दूसरे गुट ने दुकानें खोलने का विरोध किया था।

-दोनों गुटों में जमकर मारपीट भी हुई थी।

-पुलिस के समझाने के बाद मामला शांत हुआ था।

Newstrack

Newstrack

Next Story