Top

बुन्देलखंड व गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे में मिलेगा प्रवासी मजदूरों को रोजगार - अवनीश कुमार अवस्थी

उल्लेखनीय है कि बुन्देलखंड एक्सप्रेसवे जनपद चित्रकूट में भरतकूप के पास से प्रारम्भ होकर जनपद बांदा,  महोबा,  हमीरपुर,  जालौन,  औरैया होते हुए आगरा-लखन एक्सप्रेसवे पर राष्ट्रीय राजमार्ग सं0-91  (इटावा-बेवर  मार्ग) से लगभग 16 किमी पूर्व कुदरैल गाँव के पास समाप्त होगा।

राम केवी

राम केवीBy राम केवी

Published on 19 May 2020 5:57 AM GMT

बुन्देलखंड व गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे में मिलेगा प्रवासी मजदूरों को रोजगार - अवनीश कुमार अवस्थी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊः बुन्देलखंड एवं गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे परियोजना को और अधिक गतिमान करने के उद्देश्य से यूपीडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी अवनीश कुमार अवस्थी द्वारा एक उच्च-स्तरीय बैठक में उत्तर प्रदेश में स्थित बैंकों के महाप्रबंधकों को संबोधित किया गया।

जिसमें उन्होने दोनों परियोजनाओं के वित्त पोषण के लिए रु.9275 करोड़ के बैंक ऋण के यूपीडा के प्रस्तावों की स्थिति की समीक्षा की।

उन्होने बताया कि विभिन्न प्रांतों से उत्तर प्रदेश वापस आ रहे मजदूर-वर्ग को स्थानीय आधार पर कार्य के अवसर उपलब्ध करने की दिशा में भी बुंदेलखंड एवं गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे परियोजनाओं का महत्वपूर्ण योगदान होगा।

प्रस्तावों पर स्वीकृति के लिए बैंकों से अनुरोध

इस दृष्टिकोण से यूपीडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी ने सभी बैंक अधिकारियों से शीघ्र इन प्रस्तावों पर स्वीकृति हेतु बैंकों से अनुरोध किया।

बैठक में उपस्थित बैंक ऑफ बड़ौदा के मुख्य महाप्रबंधक डॉ. राम जस यादव द्वारा सूचित किया गया कि उनके बैंक द्वारा बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे परियोजना हेतु रु. 2000 करोड़ के ऋण हेतु स्वीकृति प्रदान कर दी गई है तथा इस ऋण के लिए बैंकों का कंसोर्शियम स्थापित करने के लिए प्रक्रिया तेजी से चल रही है।

यूनियन बैंक के उप-महाप्रबंधक ने बताया कि उनकी बैंक द्वारा रु.700 करोड़ के ऋण का स्वीकृति पत्र जारी कर दिया गया है।

पंजाब नेशनल बैंक के उप-महाप्रबंधक ने सूचित किया कि गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे परियोजना हेतु बैंकों का कंसोर्शियम स्थापित करने के लिए उनके द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं।

बैठक में भाग ले रहे इंडियन बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, यूको बैंक व पंजाब एंड सिंध बैंक के महाप्रबंधकों ने भी सूचित किया कि उनके बैंकों द्वारा शेष ऋण राशि रु. 6575 करोड़ के ऋण की स्वीकृति की प्रक्रिया अंतिम चरण में है और अगले कुछ दिनों में ऋण-स्वीकृति पत्र यूपीडा के पक्ष में जारी कर दिए जाएंगे।

सभी बैंकों के अधिकारियों द्वारा श्री अवस्थी को आश्वस्त किया गया कि इन परियोजनाओं हेतु ऋण अवमुक्त कराने हेतु परिचालनात्मक बिंदुओं का निराकरण उनके द्वारा यूपीडा के साथ शीघ्र ही कर लिया जाएगा।

ऐसा होगा बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे

उल्लेखनीय है कि बुन्देलखंड एक्सप्रेसवे जनपद चित्रकूट में भरतकूप के पास से प्रारम्भ होकर जनपद बांदा, महोबा, हमीरपुर, जालौन, औरैया होते हुए आगरा-लखन एक्सप्रेसवे पर राष्ट्रीय राजमार्ग सं0-91 (इटावा-बेवर मार्ग) से लगभग 16 किमी पूर्व कुदरैल गाँव के पास समाप्त होगा।

इस एक्सप्रेसवे की लम्बाई 296.07 किमी है जिसका निर्माण 6 पैकेजों में किया जा रहा है।

यह एक्सप्रेसवे चार लेन चौड़ा (06 लेन में विस्तारणीय) होगा।

इस एक्सप्रेसवे का 5 प्रतिशत कार्य मई माह के अंत तक पूर्ण कर लिया जाएगा। इसके साथ ही गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे का निर्माण कार्य भी तीव्र गति से चल रहा है।

राम केवी

राम केवी

Next Story