Top

Jhansi Crime News: जेल में बंद पूर्व प्रधान की मौत, पढ़ें जिले की बड़ी आपराधिक घटनाएं

झांसी में साइबर ठगी के चलते एक युवती ने की सुसाइड कर ली। वहीं जेल में बंद पूर्व प्रधान की संदिग्ध हालत में मौत हो गयी।

B.K Kushwaha

B.K KushwahaReport B.K KushwahaAshiki PatelPublished By Ashiki Patel

Published on 20 July 2021 12:20 PM GMT

Jalaun Crime News
X

शव की प्रतीकात्मक तस्वीर (फोटो: सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Jhansi News: झांसी के नबाबाद थाना क्षेत्र में साइबर क्राइम ठगी के चलते एक युवती ने की सुसाइड कर ली। इससे पहले 48000 रुपये की साइबर ठगी के सम्बन्ध में युवती ने साइबर सेल झाँसी को प्रार्थना पत्र दिया था, साइबर सैल द्वारा कार्यवाही की गई। पुलिस ने खाते को ट्रैस किया, जिसमें पता चला की पैसा भोपाल में एक आदीवासी के नाम पर खाता है उसमें ट्रांफर किया गया था।

लैपटॉप खरीदने के नाम पर मांगे थे रुपए

युवती को नौकरी के नाम पर लैपटॉप खरीदने के नाम पर 48000 रुपया लिया गया था, सीओ सिटी राजेश कुमार सिंह ने बताया नवाबाद क्षेत्र में एक लड़की ने सुसाइड कर ली है, उसमें बताया जा रहा है कि साइबर ठगी की शिकार हुई थी, 48000 रु ठगी किए गए थे, कई किस्तों में पैसा लिया गया था, साइबर सेल ने कार्रवाई करते हुए उस खाते को बंद करा दिया है, इसमें वैधानिक कार्रवाई की जा रही है ।


परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल

वहीं युवती के परिवार में मातम छाया हुआ है। युवती के परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। युवती के परिजनों ने जल्द से जल्द ठग को पकड़कर उस के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है।

जेल में बंद पूर्व प्रधान की संदिग्ध हालत में मौत, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

जिला कारागार में ग्राम सभा बुढावली के पूर्व प्रधान रहीस यादव (35) की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। इस प्रकरण में परिजनों ने गंभीर आरोप लगाते हुए जांच की मांग की है। बताया जा रहा है कि झांसी के मोंठ तहसील के ग्राम बुढावली के पूर्व प्रधान रहीस यादव (35) वर्षीय एससी/एसटी एक्ट व गैंगस्टर के मामले में 22 जुलाई 2020 से झांसी जिला जेल में बंद थे। उनके साथ ही उनके दो भाई शिवशंकर व हरिशंकर भी जेल में हैं। जेल प्रशासन के मुताबिक मंगलवार की सुबह अचानक रहीस यादव की हालत बिगड़ गई। इस पर जेल के चिकित्सक की सलाह पर उसे उपचार हेतु मेडिकल कॉलेज भेजा गया। लेकिन मेडिकल पहुंचने से पहले ही रहीस ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु भेज दिया।


पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद मौत कारण होगा स्पष्ट

इसकी खबर लगने पर मृतक के परिजन व शुभचिंतक मेडिकल कॉलेज पहुंच गए। वहां मृतक के पिता उदय नारायण ने हत्या का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि रहीस को रंजिशन जहर देकर मारा गया है।फिलहाल पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही उसकी मौत का कारण स्पष्ट होगा। उधर पोस्टमार्टम हाउस के बाहर जमा भारी भीड़ को देखते हुए क्षेत्राधिकारी नगर व दो थानों की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई।

Ashiki

Ashiki

Next Story