×

"अमृत कल्प" कला प्रदर्शनी: चित्रकार हमेशा जीवित रहता है, श्वेतांबरी राय की प्रतिक्रिया

Jhansi News: ललित कला संस्थान बुंदेलखंड विश्वविद्यालय झाँसी एवं कला संस्कृति समिति झाँसी के संयुक्त तत्वावधान में आज ख्याति प्राप्त चित्रकार अमृता शेरगिल का जन्मदिन "अमृता कल्प" चित्रकला प्रदर्शनी के माध्यम से मनाया गया।

B.K Kushwaha
Updated on: 30 Jan 2022 2:47 PM GMT
Flag: Amrit Kalp art exhibition organized a grand event, Shwetambri Rai said - the painter always lives
X

झाँसी: "अमृत कल्प" कला प्रदर्शनी का हुआ भव्य आयोजन

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Jhansi News: ललित कला संस्थान बुंदेलखंड विश्वविद्यालय झाँसी (Institute of Fine Arts Bundelkhand University Jhansi) एवं कला संस्कृति समिति झाँसी के संयुक्त तत्वावधान में आज ख्याति प्राप्त चित्रकार अमृता शेरगिल का जन्मदिन (painter amrita shergill birthday) "अमृता कल्प" चित्रकला प्रदर्शनी के माध्यम से मनाया गया।

इस अवसर पर महिला सशक्तिकरण (women empowerment) को प्रदर्शित करते हुए कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ समाज सेविका श्वेतांबरी राय (Senior Social Worker Shwetambari Rai), मुख्य अतिथि वामा सारथी उत्तर प्रदेश पुलिस (Uttar Pradesh Police) महिला संगठन की अध्यक्षा डॉ सुमन पुनिया, विशिष्ट अतिथि समाजसेविका स्नेहा, अपर जिलाधिकारी (न्यायिक) श्यामलता आनंद तथा वरिष्ठ समाजसेविका तथा राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित डॉ. नीति शास्त्री, ललित कला संस्थान की सहायक आचार्य डॉ श्वेता पांडेय उपस्थित रही।

चित्रकार हमेशा जीवित रहता है- वरिष्ठ समाज सेविका श्वेतांबरी राय

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए वरिष्ठ समाज सेविका श्वेतांबरी राय ने कहा कि चित्रकार हमेशा जीवित रहता है। अमृता शेरगिल अपने छोटे से जीवन काल में ही वह मुकाम हासिल कर लिया है जो आज भी उन्हें जीवित रखा हुआ है। उन्होंने कहा कि व्यक्ति दुनिया छोड़ कर चला जाता है लेकिन उसके कार्य हमेशा याद किए जाते हैं। वामा सारथी उत्तर प्रदेश पुलिस महिला संगठन की अध्यक्षा डॉ सुमन पुनिया ने कहा कि अपने इतिहास हो याद करने का यह तरीका बहुत ही अच्छा है।


मतदाता जागरूकता का कार्टून के माध्यम से किया गया प्रयास

वरिष्ठ समाज सेविका स्नेहा ने विद्यार्थियों को आशीर्वाद करते हुए कहा कि इस प्रकार के प्रयास समाज को नई दिशा देने में सहायक होते हैं। उन्होंने कहा कि कला का क्षेत्र बहुत ही विविध है। ऐसी कला प्रदर्शनियों को देखकर बहुत से नए विषय मिल जाते हैं। अपर जिलाधिकारी न्यायिक श्यामलता आनंद ने कहा कि कला किसी तरह का भेद नहीं करती है। कला के माध्यम से जो भी संदेश दिया जाता है वह बहुत ही साफ और स्पष्ट होता है। उन्होंने कहा कि मतदाता जागरूकता के लिए कार्टून के माध्यम से किया गया प्रयास सराहनीय है। उन्होंने कहा कि किसी बच्चे को कोई समस्या है तो उसे हल करने में मदद करें और और आगे बढ़ने में सहायता करें।

इस कार्यक्रम में डॉ नीति शास्त्री ने कहा कि अतीत को याद करके ही उज्जवल भविष्य का निर्माण किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि इस कार्य को करने में ललियकला संस्थान बुंदेलखंड विश्वविद्यालय झांसी पूरी तरह से प्रयासरत है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि इस तरह के कार्यक्रम विद्यार्थियों को खुद के इतिहास को समझने का अवसर मिलता है।

कार्यक्रम की संयोजिका डॉ श्वेता पांडेय ने बताया कि गत 6 वर्षों से इस प्रदर्शनी का आयोजन बीएफए तृतीय वर्ष के विद्यार्थियों द्वारा आयोजित किया जाता रहा है। यह एक ऐसा मौका होता है जहां छात्र अपनी शैक्षणिक गतिविधि के साथ व्यवहारिक ज्ञान और प्रदर्शनी आयोजन के तकनीकी गुण भी सीखते हैं। कार्यक्रम का आयोजन ललित कला संस्थान के बीएफए तृतीय वर्ष के विद्यार्थियों ने किया। संचालन शिवांशी और आभार सुकन्या ने व्यक्त किया। इस अवसर पर ललित कला संस्थान के समस्त विद्यार्थी उपस्थित रहे।

taja khabar aaj ki uttar pradesh 2022, ताजा खबर आज की उत्तर प्रदेश 2022

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story