×

Mahoba News: सिंचाई करने गए किसान की कंरट लगने से मौत, परिवार में मचा हाहाकार

महोबा जनपद के लमौरा गांव में सिंचाई करते समय करंट की चपेट में आए एक किसान की दर्दनाक मौत हो गई।

Imran Khan

Imran KhanReport Imran KhanDeepak RajPublished By Deepak Raj

Published on 8 Aug 2021 11:08 AM GMT

People gather at incident point
X

घटनास्थल के पास एकत्र लोग

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Mahoba News: एक तरफ तो बिजली के आने से किसानों को पटवन करने में सहुलियत होने लगी है। उनका असिंचित खेत अब सिंचित हो गया है। किसान ट्यूबवेल व मोटर के माध्यम से उनके खेतों में फसलें लहलहा रही है। लेकिन इसमें जरा सी असावधानी अपने जीवन लिला को समाप्त भी कर सकती है। सरकार के द्वारा भी कई जागरूकता आभियान समय-समय पर चलाया जाता है। ठीक इसी प्रकार कि घटना महोबा जनपद में घटित हुई जहां पटवन करने गए किसान की करंट लगने से मौत हो गई।


परिवार के लोगों को संत्वना देते गांव के लोग

आपको बता दें की महोबा जनपद के लमौरा गांव में सिंचाई करते समय करंट की चपेट में आए एक किसान की दर्दनाक मौत हो गई। किसान की मौत से परिवार में कोहराम मच गया। मृतक किसान अपने घर का इकलौता कमाने वाला था जिसकी मौत होने से परिवार टूट सा गया है और शासन-प्रशासन की ओर मदद भरी निगाहों से देख रहा है। महोबा जनपद के कुलपहाड़ कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत लमौरा गांव में खेत में सिंचाई करते समय विद्युत करंट की चपेट में आए 45 साल के किसान की मौत होने से पूरे परिवार में कोहराम मच गया।

पिपरमेंट की खेती में सुबह सिंचाई करने गए थें

दरअसल बताया जाता है कि 45 वर्ष का श्रीचंद कुशवाहा एक बीघा के खेत का किसान है लेकिन अपने परिवार को पालने के लिए अन्य लोगों की खेती को बटाई पर कर रहा था। पिपरमेंट की खेती में सुबह सिंचाई करने आया था। किसान ट्यूबेल में आए करंट की चपेट में आ गया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। किसान की मौत की सूचना मिलते ही गांव के लोग इकट्ठा हो तो वहीँ परिवार में भी चीख पुकार मच गया।


मृतक किसान का पुत्र


विद्युत करंट की चपेट में किसान की मौत की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और शव को कब्जे में लेकर अग्रिम कार्यवाही की जा रही है। परिवार के लोग बताते हैं कि मृतक के 5 बच्चे हैं और वह अपने घर का इकलौता कमाने वाला था। बटाई की खेती में उसका परिवार पल रहा था ऐसे में उसकी मौत हो जाने के बाद से पूरा परिवार अब दाने-दाने को मोहताज हो जाएगा। शासन और प्रशासन की तरफ मदद की आस लगाए परिवार बैठा है।

Deepak Raj

Deepak Raj

Next Story