×

Mahoba News: सड़कों पर उतरीं गुलाबी गैंग की महिलाएं, इन मुद्दों को लेकर जताया जोरदार विरोध

गुलाबी गैंग ने किसानों पर हुए लाठीचार्ज के विरोध में पैदल मार्च करते हुए सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया।

Imran Khan

Imran KhanReport Imran KhanRaghvendra Prasad MishraPublished By Raghvendra Prasad Mishra

Published on 3 Sep 2021 10:20 AM GMT

Gulabi Gang
X

प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपती गुलाबी गैंग की महिलाएं (फोटो-न्यूजट्रैक)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Mahoba News: देश विदेश में चर्चित महिलाओं के संगठन गुलाबी गैंग ने बढ़ती महंगाई, बिजली बिलों की बढ़ोतरी और किसानों पर हुए लाठीचार्ज के विरोध में पैदल मार्च करते हुए सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। सैकड़ों महिलाओं ने तहसील परिसर में पहुंचकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और ज्ञापन के माध्यम से आपनी नाराजगी शासन को भेजी है।

गुलाबी गैंग से जुड़ी महिलाएं देश में लगातार बढ़ती महंगाई, किसानों पर हुए लाठीचार्ज, पेट्रोल-डीजल और बिजली बिलों की बढ़ोतरी से इस कदर नाराज हैं कि सड़कों पर आकर अपनी नाराजगी का इजहार कर रही हैं। गुलाबी गैंग की बुंदेलखंड कमांडर फरीदा बेगम के नेतृत्व में सैकड़ों महिलाएं सड़क पर आई और शहर के मुख्य बाजारों से होते हुए सभी चौराहों पर पैदल मार्च निकालकर सरकार के खिलाफ अपना प्रदर्शन किया।


गुलाबी गैंग की इन महिलाओं का कहना है कि सरकार ने बढ़ती कीमतों को रोकने के लिए कोई पहल नहीं की। महिलाओं का आरोप था कि योजना के नाम पर हमको सिलेंडर दे दिए गए, लेकिन गैस भरवाने के लिए महिलाओं के पास पैसा नहीं है। किचन का बजट पूरी तरीके से गड़बड़ा चुका है। बर्बाद और तबाह होते हुए किसानों पर लाठीचार्ज हुआ है।


बिजली बिलों की बढ़ोत्तरी और अन्य रोजमर्रा के सामानों की महंगाई से महिलाओं में खासी नाराजगी है। महिलाओं का कहना है एक तो सरकार महंगाई पर काबू नहीं कर पा रही है, ऊपर से अपने न्याय के लिए लड़ रहे किसानों का अपमान भी कर रही है। इसी बात से गुलाबी गैंग नाराज हैं। इसी को लेकर विरोध प्रदर्शन करते हुए सरकार को ज्ञापन भेजा है, ताकि सरकार यह जान ले कि महंगाई से आम आदमी पूरी तरीके से टूट चुका है। गुलाबी गैंग की बुंदेलखंड कमांडर फरीदा बेगम कहती हैं कि सरकार ने अच्छे दिनों की बात कही थी, लेकिन हमें पुराने दिनों की याद आ रही है। हर व्यक्ति को 15 लाख रुपए देने की बात करने वाली सरकार को क्या महंगाई नजर नहीं आ रही है।

Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story