यूपी: बीजेपी को यहां लगा तगड़ा झटका, उपचुनाव में मिली ये बुरी खबर

मालूम हो, यूपी की लखनऊ (कैंट), बाराबंकी की जैदपुर, चित्रकूट की मानिकपुर, सहारनपुर की गंगोह, अलीगढ़ की इगलास, रामपुर, कानपुर की गोविंदनगर, बहराइच की बलहा, प्रतापगढ़, मऊ की घोसी और अंबेडकरनगर की जलालपुर विधानसभा सीटों के लिए 21 अक्टूबर को वोट पड़े थे।

यूपी: बीजेपी को तगड़ा झटका, उपचुनाव के बीच में मिली बुरी खबर

यूपी: बीजेपी को तगड़ा झटका, उपचुनाव के बीच में मिली बुरी खबर

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में 11 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में भाजपा को जैदपुर व रामपुर में करारा झटका लगा है। हालांकि भाजपा छह सीटों को जीतने में कामयाब रही है लेकिन उसे जैदपुर सीट गंवानी पड़ गई है यहां भाजपा के अंबरीश को समाजवादी पार्टी के गौरव कुमार ने 4165 मतों के अंतर हरा दिया है। दूसरी ओर रामपुर में पूरा जोर लगाने के बावजूद भाजपा के भारत भूषण समाजवादी पार्टी की तंजीन फात्मा से 7716 मतों के अंतर हार गए हैं।

यूपी: बीजेपी को तगड़ा झटका, उपचुनाव के बीच में मिली बुरी खबर

यह भी पढ़ें: By-Election Results Live Updates: जानिए 18 राज्यों की 51 सीटों का हाल

ऐसे में राजनीतिक हल्कों में इस बात की चर्चा है कि उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी यानी बीजेपी  अपनी जीत पर संतोष कर सकती है लेकिन रामपुर में जिस तरह से आजम खां को कठघरे में खड़ा करके समां बांधा गया था वहां उसे तगड़ा झटका लगा है। इसके अलावा लखनऊ (कैंट) सीट से भाजपा के सुरेश तिवारी 35428 मतों के अंतर से विजयी रहे हैं। उधर बलहा सुरक्षित सीट से भाजपा के सरोज सोनकर समाजवादी पार्टी की किरन भारती को 46487 मतों के रिकार्ड अंतर से हराकर विजयी हुए हैं।

समाजवादी पार्टी इस उपचुनाव में तीन सीटें रामपुर जैदपुर व जलालपुर में अपनी जीत का परचम लहरा कर खुद को दूसरे नंबर की पार्टी साबित करने में सफल रही है।

बाराबंकी की जैदपुर, चित्रकूट की मानिकपुर, सहारनपुर की गंगोह, अलीगढ़ की इगलास, रामपुर, कानपुर की गोविंदनगर, बहराइच की बलहा, प्रतापगढ़, मऊ की घोसी और अंबेडकरनगर की जलालपुर विधानसभा सीटों के लिए 21 अक्टूबर को वोट पड़े थे।

यह भी पढ़ें: Haryana Assembly Elections Results Live Updates: यहां देखें पूरी खबर

यूपी के लिए खास है रामपुर सीट

इस उपचुनाव में अगर किसी सीट पर सबसे ज्यादा नजर थी तो वो रामपुर सीट थी। दरअसल रामपुर आजम खान का किला माना जाता है। ऐसे में बीजेपी इस किले को गिराने की भरसक कोशिश कर रही थी। इस सीट पर आजम खान की पत्नी तंजीन फात्मा को समाजवादी पार्टी ने मैदान में उतारा था। तंजीन फात्मा का सामना बीजेपी के भारत भूषण गुप्ता से था। कांग्रेस ने इस सीट पर अरशद अली खान उर्फ गुड्डु को उतारा था। तंजीन फात्मा इस सीट को जीतने में कामयाब रहीं।